धर्म-कर्मशहर में खासस्वास्थ्य

श्री भरत मंदिर इंटर कॉलेज बना देश के विभिन्न प्रान्तों से आने वाले गढ़वाल मण्डल के जनपदों के प्रवासीयों का आवागमन शिविर!

देवभूमि जे के न्यूज़, ऋषिकेश!

वैश्विक महामारी के संकट से राष्ट्र अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए कृत संकल्प है वहीं उत्तराखण्ड राज्य की सरकार भी देश के विभिन्न प्रान्तों से अपने नागरिकों को सकुशल वापस लाने का पूरा प्रयास कर रही है ।
लॉकडाउन मे विभिन्न राज्यों मे फँसे हुए नागरिकों को अपने घरों को भेजने के लिए गढ़वाल मण्डल के सभी जनपदों के केंद्र मे स्थित ऋषिकेश के श्री भरत मंदिर इंटर कॉलेज को आवागमन शिविर के रूप मे बनाया गया है ,जहाँ देश के विभिन्न राज्यों राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, पंजाब, हरियाणा , चंडीगढ़,दिल्ली हिमांचल प्रदेश से उत्तराखण्ड परिवहन की बसों के द्वारा नागरिकों को भरत मंदिर इंटर कॉलेज शिविर मे लाकर मेडिकल परीक्षण के बाद उनके गंतब्य स्थान को भेजा जा रहा है,
विद्यालय के प्रधानाचार्य मेजर गोविन्द सिंह रावत ने कहा कि बहार से आने वाले उत्तराखण्डी नागरिकों के लिए विद्यालय प्रबन्ध समिति एवं विद्यालय के स्टाफ कर्मचारियों द्वारा प्रशासन को पूर्ण रूप से 16 अप्रेल से लगातार आ रहे सैकड़ों उत्तराखण्डी प्रवासी नागरिकों को हर प्रकार से सहयोग दिया जा रहा है, विद्यालय के परशुराम सभागार एवं कक्षों मे रहने की व्यवस्था ,विजली, पानी शौचालय एवं अन्य सुविधाओं को देने का पूर्ण रूप से प्रयास किया जा रहा है ,
प्रधानाचार्य मेजर रावत ने बताया कि इस वैश्विक संकट मे वे स्वयं भी ए डी एम देहरादून, एस डी एम ऋषिकेश , तहसीलदार ,पुलिस प्रशासन के अधिकारियों के साथ लगातार अपनी टीम को लेकर बने हुए हैं ताकि स्थानीय स्तर पर कोई परेशानी आने वाले प्रवासी नागरिकों को न उठाना पड़े ।
मेजर रावत ने कहा कि इस संकट मे विद्यालय प्रबन्ध समिति, श्री भरत मंदिर एजुकेशन सोसायटी एवं श्री भरत मंदिर परिवार नगर के आसपास के क्षेत्रों मे जरूरत मंदों को स्वछता ,शहर एवं ग्रामीण क्षेत्रों मे दवाई का छिड़काव ,भोजन , सुरक्षा मास्क वितरित करने का कार्य अनवरत करता चल आ रहा है जिससे हजारों जरूरत मंदों की आवश्यकता की पूर्ति हो रही है।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close