धर्म-कर्मशहर में खास

समाजसेवी विनोद बछेती ने दिल्ली के कल्याणपुरी में ढोल बस्ती में लॉकडाउन में फंसे गरीबों की मदद के लिए बढ़ाया हाथ!

देवभूमि जेके न्यूज!
आज पूरा देश कोरोना वायरस के खतरे से सहमा हुआ है। देश समेत अन्य कई देशों में लोगों का अमूल्य जीवन दांव पर लगा हैं। ऐसे में सरकार भी काफी सजगता से कार्य कर रही हैं। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने 17 मई तक लॉकडाउन बढ़ाने का एलान किया है। जिसके बाद पूरा देश एकजुट हो कर सामने आया है। इस विकट परिस्थिति में गरीब और असहाय परिवारों की मदद के लिए समाज के सभी वर्गों के लोगों ने भी हाथ बढ़ाए है।
इस लीक में कोविड-19 की विकट परिस्थिति में दिल्ली पैरामेडिकल & मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट(डीपीएमआई) के चैयरमैन एवं समाज सेवी विनोद बछेती गरीबों के लिए वरदान बनकर खड़े हुए है।
इस कड़ी में रविवार को दिल्ली के कल्याणपुरी स्थिति ढोल बस्ती में लॉकडाउन में फंसे गरीब और असहाय परिवारों को डीपीएमआई के सौजन्य से खाद्य सामग्री प्रदान की गई। इस मौके पर राष्ट्रीय स्वंय संघ के विभाग कार्यवाह महीपाल जी, मयूर बिहार जिला दिल्ली प्रचारक अखंड प्रताप, जिला कार्यवाह लक्ष्मण भी मौजूद थे। जिन्होंने इन गरीब और असहाय परिवारों को खाद्य सामग्री प्रदान की।

इस मौके पर समाज सेवी विनोद बछेती ने कहां कि इस संकट के समय में यह हमारी एक छोटी सी कोशिश है। जिसमें हमारे साथ राष्ट्रीय स्वंय संघ के विभाग कार्यवाह महिपाल ,मयूर बिहार दिल्ली के जिला प्रचारक अखंड प्रताप और जिला कार्यवाह लक्ष्मण जी ने सहयोग किया इसके लिए हम आभारी है। बछेती ने कहां की हमने आज दिल्ली की कल्याणपुरी में ढोल बस्ती में रह रहे गरीब परिवारों को सोशल डिस्टेसिंग का अनुपालन करते हुए खाद्य सामग्री उपलब्ध करवाई है। साथ ही लोगों से निवेदन किया हैं कि कोरोना वायरस को हराने के लिए अपने घरों में रहना है। साथ ही सरकार द्वारा बताए गए नियमों का पालन करें।
दिल्ली पैरामेडिकल & मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट न्यू अशोक नगर दिल्ली
द्वारा प्रदान की गई खाद्य सामग्री प्राप्त करने के बाद ढोल बस्ती के परिवारों ने समाज सेवी विनोद बछेती का आभार प्रकट किया है।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close