ऋषिकेशशहर में खास

नगर निगम का वैबसाईट लांच! वैबसाईट में निगम की तमाम योजनाओं के साथ मिलेगी महत्वपूर्ण जानकारियां -महापौर*

व्यवसायियों को मिलेगी ट्रेड लाइसेंस ऑनलाइन बनवाने की सुविधा-अनिता ममगाई*

*देवभूमि जे के न्यूज़, ऋषिकेश

ऋषिकेश-नगर निगम प्रशासन ने सोमवार को निगम की नई वेबसाइट लांच कर दी। महापौर अनिता ममगाई ने वैबसाइट को लांच करते हुए बताया कि यह प्रधानमंत्री के डिजिटल सपने को साकार करेगी। इस वेबसाइट पर नगर निगम से संबंधित सभी योजनाएं होंगी।
नगर निगम ने कोरोना वायरस के मद्देनजर निगम की सुविधाओं को लोगों के घर तक पहुंचाने के उद्देश्य से आज दोपहर बहुप्रतीक्षित वैबसाइट लांच कर दी। नगर निगम मेयर ममगाई ने बताया कि निगम से संबंधित सारी सूचनाएं वेबसाइट के माध्यम से लोगों तक पहुंचाने में वैबसाइट बेहद सहायक साबित होगी जिसमें बोर्ड मीटिंग की डिटेल्स भी लोग देख सकेगें। वैबसाइट में निगम की सभी भव्य योजनाओं, डिपार्टमेंट के कार्यों के साथ पार्षदों, अधिकारियों ,कर्मचारियों की डिटेल और उनके फोन नंबर मौजूद हैं।उन्होंने बताया कि वैबसाइट के माध्यम से निगम से रिलेटेड कोई भी फॉर्म जैसे जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र भवन कर आदि निशुल्क डाउनलोड किया जा सकेगा।उन्होंने बताया कि वैबसाइट में शहर के व्यापारियों का भी खास ख्याल रखा गया है। वैबसाइट के जरिए व्यवसायी अपना ट्रेड लाइसेंस ऑनलाइन बनवा सकते हैं । इसके लिए अब उन्हें निगम जाने की जरूरत नही पड़ेगी।महापौर के अनुसार निगम से संबंधित कोई भी समस्या या कोई सुझाव है मेयर हेल्पलाइन कंप्लेंट फॉर्म और सजेशन बॉक्स में देने से यह जानकारी नगर निगम के ऑफिशल मेल के साथ साझा हो जाएगी और समस्या के समाधान के लिए निगम तुरंत कदम उठा सकेगा। उन्होंने बताया कि वैबसाइट में पॉलीथीन के प्रयोग ना करने के लिए लोगों को प्रेरित करने के लिए एंटी पॉलिथीन प्लेज सेक्शन बनाया गया है । मेयर के अनुसार भविष्य की योजनाओं को अमलीजामा पहनाने की कवायद के तहत भवन कर को पूरी तरीके से ऑनलाइन करने की प्रक्रिया निगम द्वारा शुरू हो गई है ।शुरुआती चरण में 12000 संपत्तियों में से 5000 संपत्तियों का डिजिटल डाटा बेस तैयार हो गया है। बहुत जल्द ही भवन कर को ऑनलाइन भरने की सुविधा शहरवासियों को वेबसाइट के माध्यम से प्रदान कर दी जाएगी।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

55 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close