Breaking News

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता का एम्स दिल्ली में निधन!

लीवर और किडनी ने काम करना कर दिया था बंद; सात दिनों से चल रहा था इलाज!

स्व.आनंद सिंह विष्ट जी के साथ फाईल फोटो!
देवभूमि जे के न्यूज़!

13 मार्च को दिल्ली के एम्स में कराया गया भर्ती, रविवार देर रात हालत ज्यादा बिगड़ी थी
सीएम के पिता आनंद सिंह विष्ट 89 साल के थे, सोमवार सुबह 10.44 बजे अंतिम सांस ली।
लखनऊ. उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट (89) की सोमवार सुबह 10:44 बजे को दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में निधन हो गया। आनंद सिंह लंबे समय बीमार चल रहे थे। लीवर औरकिडनी में समस्या बढ़ने के कारण 13 मार्च को उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। लेकिन, मल्टीपल ऑर्गन फेल होने के कारण रविवार देर रात उनकी हालत ज्यादा बिगड़ गई थी। अब शव को उनके पैतृक गांव पंचूर (उत्तराखंड) लाया जा रहा है। जहां उनका दाह संस्कार किया जाएगा!
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होंगे! उत्तरप्रदेश में कोरोनावायरस महामारी के लड़ाई में व्यस्तता के चलते असमर्थता जताई!साथ ही दाह संस्कार में परिवार के अधिक लोगों को शामिल न होने की बात कही!
ज्ञात हो कि सीएम योगी के पिता आनंद सिंह को एम्स के ए बी वार्ड नंबर आठ में भर्ती किया गया था। गेस्ट्रो विभाग के डॉक्टर विनीत आहूजा की टीम उनका इलाज कर रही थी। उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया था। रविवार को उनका डायलिसिस भी कराया गया था।
वन विभाग रेंजर से रिटायर हुए थे आनंद सिंह।
योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह उत्तराखंड के गढ़वाल जिले के यमकेश्वर के पंचूर गांव के रहने वाले थे। वे वन विभाग में रेंजर थे। साल 1991 में सेवानिवृत्त हुए थे। उसके बाद से ही वे अपने परिवार के साथ गांव में रहते थे। योगी आदित्यनाथ के बचपन का नाम अजय सिंह बिष्ट है। लेकिन, वे बाल्यकाल में ही अपना परिवार छोड़ दिया था और गोरक्षनाथ मंदिर के महंत व नाथ संप्रदाय के संत महंत अवेद्यनाथ के पास चले गए थे। बाद में अवेद्यनाथ की जगह योगी आदित्यनाथ ने ली। योगी आदित्यनाथ चुनाव के सिलसिले में उत्तराखंड जाते थे। तो उनका परिवार उनसे मिलने आता था।
दिल्ली एम्स में भर्ती आनंद सिंह बिष्‍ट को देखने रविवार रात भाजपा अध्‍यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी के संगठन महासचिव बी एल संतोष पहुंचे थे। शनिवार रात ही उनकी तबियत अचानक बिगड़ गई थी। इसके बाद उन्‍हें गहन चिकित्सा में रखा गया था। आज डॉक्‍टरों ने जवाब दे दिया। सुबह 10.30 बजते-बजते उनकी हालत खराब हो गई। बताया जा रहा है कि मल्‍टी-ऑर्गन फेल्‍योर के चलते बिष्‍ट का 10:44 बजे निधन हो गया।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

12 Comments

  1. Woah! I’m really enjoying the template/theme of this site. It’s simple, yet effective.
    A lot of times it’s tough to get that “perfect balance” between superb usability and visual appeal.

    I must say that you’ve done a amazing job with this. In addition,
    the blog loads extremely quick for me on Opera.
    Exceptional Blog!

  2. Woah! I’m really enjoying the template/theme of this blog.
    It’s simple, yet effective. A lot of times it’s very difficult to get that “perfect balance” between superb usability and visual appearance.
    I must say you’ve done a awesome job with this. In addition, the blog loads super quick for me on Opera.
    Outstanding Blog!

  3. Amazing blog! Is your theme custom made or
    did you download it from somewhere? A design like yours with a few simple tweeks would really make my
    blog stand out. Please let me know where you got your theme.
    Kudos 32hvAj4 cheap flights

  4. Thanks for the marvelous posting! I truly enjoyed reading it, you can be a great author.
    I will make certain to bookmark your blog and will come back later in life.
    I want to encourage continue your great work, have a nice holiday weekend!

  5. Excellent beat ! I wish to apprentice while you
    amend your website, how can i subscribe for a blog site?
    The account aided me a acceptable deal. I had been tiny bit acquainted of
    this your broadcast provided bright clear concept

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close