ऋषिकेशधर्म-कर्मराष्ट्रीय

नर सेवा-नारायण सेवा – स्वामी विजयानंद सरस्वती!

लॉकडाउन के दौरान ज़रूरमंदो की सेवा में आर्ट ऑफ लिविंग ने बढ़ाई मदद के लिए हाथ!

देवभूमि जे के न्यूज़, ऋषिकेश!

कोरोनावायरस ने लगभग पूरे विश्व को अपने आगोश में ले लिया है। चारों तरफ त्राहि-त्राहि मची हुई है। लगभग-लगभग विश्व कोरोनावायरस से संक्रमित सभी देशों ने अपने यहां लॉकडाउन लगा दिया है। कई देशों में कर्फ्यू लगा हुआ है।
इस महामारी के संकट से सभी देशों के व्यक्ति बुरी तरह से परेशान है ।लाखों लोग इस बीमारी से ग्रसित है। इस वैश्विक आपदा में लोग अपने-अपने में घरों में बंद हैं ।जो साधन संपन्न है उन्हें तो अपना जीवन- यापन व्यतीत करने में कोई परेशानी नहीं आ रही है। परंतु जो दिहाड़ी मजदूर है, रोज कमाने खाने वाले लोग हैं ,उसके सामने रोजी-रोटी की भयंकर समस्या उत्पन्न हो रही है। भारत भी इससे अछूता नहीं है ,इसी कड़ी में अनेकों सामाजिक, धार्मिक संस्थाएं आकर अभावग्रस्त लोगों को मदद कर रही है। इसी कड़ी में आर्ट ऑफ लिविंग के प्रणेता श्रीश्री रविशंकर जी एवं-आईएएचवी द्वारा भी मानव सेवा को ईश्वर सेवा मानकर गरीबों , जरूरत मंदो की मदद कर रही हैं। भूखे और मरीजों की मदद के लिए संस्थान के सदस्य ऐसे ही प्रयासों में तल्लीनता से सब लोग लगें हुए हैं ।

आर्ट ऑफ लिविंग-आईएएचवी के स्वयं सेवकों ने आईएएचवी के साथ मिलकर लाखों प्रवासी मजदूरों, परिवारों और जरूरतमंदों को आवश्यक राहत सामग्री पहुंचा रहे हैं। संस्थान ने हैदराबाद में भी एक अस्पताल की व्यवस्था की है। इसमें तनाव और चिंता को दूर करने संबंधी परामर्श के लिए एक ऑनलाइन हेल्पलाइन भी जारी की गई है।लगातार प्रयासों के चलते आर्ट ऑफ लिविंग के स्वयं सेवकों ने अपने सहयोगी संस्थान इंटरनेशनल एसोसिएशन फॉर ह्यूमन वैल्यूज के साथ मिलकर देश के अधिकांश राज्यों-उत्तराखंड, महाराष्ट्र, कर्नाटक, पंजाब, मध्यप्रदेश, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, दिल्ली और जम्मू राज्य शामिल हैं में लगातार बिना थके हुए राहत सामग्री पहुंचा रहे हैं।स्वयं सेवकों ने देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे एक लाख से अधिक दैनिक श्रमिकों और प्रवासी मजदूरों को राहत सामग्री पहुंचाई है। आर्ट ऑफ लिविंग / आईएएचवी ने इस अभियान में फिल्म और टीवी के सहयोगियों को शामिल करते हुए देशभर में लाखों परिवारों को 10 दिन का राशन वितरित किया। 700 टन राहत सामग्री का वितरण देश के विभिन्न हिस्सों में किया गया जिसमें भोज्य पदार्थ, दवाइयां और
दैनिक उपयोग की वस्तुओं को पहुंचाया जा रहा है!

वेद निकेतन धाम के अध्यक्ष स्वामी विजयानंद सरस्वती ने बताया कि उत्तराखंड के सुदूर क्षेत्रों में हम लोग लगातार राहत सामग्री पहुंचा रहे हैं पहाड़ के उन कठिन गांव में जहां पर अभी तक कोई सहायता नहीं पहुंची है वहां हम लोग प्रत्येक व्यक्ति को राशन दवाइयां एवं दैनिक उपयोग की वस्तुओं को पहुंचा रहे हैं कई लोग कई दिनों से भूखे प्यासे थे और हमारे द्वारा पहुंचाई गई राहत सामग्री पाकर बहुत खुश हुए!
इस जन सेवा के कार्य में मुख्य रूप से वेद निकेतन धाम के अध्यक्ष स्वामी विजयानंद सरस्वती, माता संतोष भारती, हितेश, गोविंद, रवि, अरविंद पांडे शरद ठाकुर, सुभाष शर्मा, अंकित, प्रभाकर सहित तमाम लोग अपना सहयोग प्रदान कर रहे हैं!

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

66 Comments

  1. भारतीय किसान श्रमिक जनशक्ति यूनियन शामली विरेन्द्र सिंह मलिक जिलाध्यक्ष शामली 9760494573

  2. Pingback: generic of viagra

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close