ऋषिकेशधर्म-कर्मशहर में खास

उत्तराखंड के परंपरागत त्योहारों व रीति-रिवाजों को लुप्त होने से बचाने के लिए हमें बढ़ चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए-कृष्ण कुमार सिंघल!

देवभूमि जे के न्यूज़ ऋषिकेश!
आज मधुबन आश्रम मुनिकीरेती में उत्तराखण्ड उत्थान परिषद ऋषिकेश के द्वारा आयोजित “फूलदेई पर्व” के कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
इस अवसर पर मुख्य अतिथि राज्य मंत्री कृष्ण कुमार सिंघल ने कहा कि सर्दी और गर्मी के बीच का खूबसूरत मौसम, फ्यूंली, बुरांश और बासिंग के पीले, लाल, सफेद फूल और बच्चों के खिले हुए चेहरे… ‘फूलदेई’ से यही तस्वीरें सबसे पहले ज़ेहन में आती हैं। उत्तराखंड के पहाड़ों का लोक पर्व है फूलदेई। नए साल का, नई ऋतुओं का, नए फूलों के आने का संदेश लाने वाला ये त्योहार आज उत्तराखंड के गांवों और कस्बों में मनाया जा रहा है।

प्रकृति को आभार प्रकट करने वाला लोकपर्व है ‘फूलदेई’ उत्तराखंड के परंपरागत त्योहारों व रीति-रिवाजों को लुप्त होने से बचाने के लिए हमें बढ़ चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए ताकि हमारे रीति रिवाज हमारे संस्कृति उत्तराखंड की हमारे आने वाली पीढ़ी भी जाने और पहचाने।
इस अवसर पर मुनिकीरेती के नगर पालिका अध्यक्ष रोशन रतूड़ी , भाजपा महिला प्रदेश उपाध्यक्ष कुसुम कंडवाल , परमानंद दास महाराज , कुसुम जोशी , डीबी पी एस रावत, राजेश थपलियाल, राम कृष्ण तिवारी , प्रमोद शर्मा, राजीव चौधरी सहित तमाम लोग मौजूद थे ।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close