ऋषिकेशराजनीतिशहर में खास

वादा निभाया! पहाड़ी राज्य का ,पहाड़ में राजधानी बनाया -विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल!

दून तिराहे पर आतिशबाजी कर विधानसभा अध्यक्ष का जोरदार स्वागत!

देवभूमि जे के न्यूज़!

वादा निभाया, पहाड़ी राज्य का पहाड़ में राजधानी बनाया-विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल!
Prev 1 of 1 Next
Prev 1 of 1 Next

ऋषिकेश 8 मार्च। गैरसैंण के ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित होने के पश्चात आज विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेमचंद अग्रवाल के ऋषिकेश आगमन पर दून तिराहा पर जनप्रतिनिधियों, कार्यकर्ताओं एवं स्थानीय जनता द्वारा अग्रवाल का फूल मालाओं से लाद कर गर्मजोशी से स्वागत किया गया। इसी दौरान विधानसभाध्यक्ष सहित सभी ने रेलवे रोड होते हुए स्वर्गीय इंद्रमणि बडोनी चौक पहुंचकर बडोनी जी की मूर्ति पर माल्यार्पण कर उन्हें शत नमन किया।

देहरादून आगमन पर ढोल नगाड़ो एवं फूल मालाओं के साथ विधानसभा अध्यक्ष का जोरदार स्वागत किया गया।इस दौरान महिलाओं ने पारंपरिक वेशभूषा में अग्रवाल पर टीका लगा कर उनका अभिवादन किया।इस दौरान जश्न के माहौल में आतिशबाज़ी की गयी एवं ख़ूब गुलाल भी उड़ाया गया।साथ ही कार्यकर्ताओं, स्थानीय प्रतिनिधियों एवं स्थानीय जनता द्वारा आपस में गुलाल लगाकर खुशी का इजहार किया गया। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष सहित सभी ने जमकर नृत्य भी किया है साथ ही श्री अग्रवाल ने स्व इंद्रमणि बडोनी चौक पर आंदोलनकारी महिलाओं को सम्मानित भी किया

विधानसभा अध्यक्ष ने इस अवसर पर कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित करने के बाद पूरे प्रदेश में पर्व से पहले ही होली की खुशी जैसा माहौल है।श्री अग्रवाल ने कहा कि ग्रीष्मकालीन राजधानी हम सब के लिए होली का तोहफा है।इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि ग्रीष्म राजधानी का फैसला सभी राज्य आंदोलनकारियों के लिए एक समान है एवं उन सभी शहीद राज आंदोलनकारियों के लिए श्रद्धांजलि भी है, उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी का यह फैसला पृथक राज्य के संघर्ष में हजारों महिलाओं, पुरुषों एवं आंदोलनकारीयों के लिए समर्पित है।श्री अग्रवाल ने कहा कि पहाड़ों में वर्तमान में सबसे चिंता का विषय है पलायन है उन्होंने कहा कि ग्रीष्मकालीन राजधानी बनने से निसंदेह पलायन पर रोक अवश्य लगेगी।

इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि वह हमेशा से ही पहाड़ की राजधानी पहाड़ में बनाए जाने के पक्ष में थे जिसके लिए वह सरकार से इस संबंध में गंभीरता से सोचने की बात भी करते रहे हैं।श्री अग्रवाल ने कहा कि पृथक उत्तराखंड राज्य के सपने को साकार करने में स्व० इंद्रमणि बडोनी जी सहित सभी आंदोलनकारियों की भूमिका रही है।श्री अग्रवाल ने कहा कि आज उत्तराखंड वासियों के सपने को गैरसैण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाकर साकार करने का श्रेय मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी को जाता है।

इस अवसर पर मंडल डोईवाला ब्लॉक प्रमुख भगवान सिंह पोखरियाल, मंडल अध्यक्ष दिनेश सती, प्रदेश उपाध्यक्ष कुसुम कंडवाल, इंद्रकुमार गोदवानी, मंडल अध्यक्ष गणेश रावत, हिमांशु संगतानी, सुमित पंवार, कपिल गुप्ता, सुदेश कंडवाल, जितेन्द्र अग्रवाल, राकेश अग्रवाल, शिवकुमार गौतम, संजय व्यास, सरोज डिमरी, उषा रावत, कविता शाह, पूर्व नगर पालिका मुनि की रेती अध्यक्ष शंभू पासवान, बीना देवी,राजेश जुगलान, ऋषि राजपूत, राकेश चन्द, सचिन अग्रवाल, जयन्त किशोर शर्मा, भूपेन्द्र राणा, नितिन सक्सेना, गोपाल सती, पार्षद विकास तेवतिया, प्रभाकर शर्मा, विपिन पन्त, रीना शर्मा, लव कंबोज, जयेश राणा, चेतन चौहान, अशोक अग्रवाल, शुभम संगल, शरद तायल, प्रदीप दुबे, जयकुमार उपाध्याय, रंगपाल सूर्यवंशी,कविता शाह, राजकुमार नरसिम्हा, जयप्रकाश नारायणन, श्रवण जैन, संजीव पाल, मुकेश ग्रोवर, सुमित सेठी, अविनाश अग्रवाल, गम्भीर मेवाड़, माधव नोटियाल, राजीव अग्रवाल, रूपेश गुप्ता, संजीव सिलस्वाल, बलविंदर सिंह, मनोज कालरा,शरद तायल, अरुण बड़ोनी, अनिता तिवाड़ी, उषा जोशी, दीपक बिष्ट, ब्रजेश शर्मा, जितेंद्र कुमार, पदम् शर्मा, अनन्तराम भट्ट, चेतन शर्मा, अविनाश अग्रवाल,मनोज ध्यानी, शिवम टुटेजा सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

85 Comments

  1. Tactile stimulation Gambit nasal Regurgitation Asymptomatic testing GP Chemical abuse Might Abet machinery I Rem Behavior Diagnosis Hypertension Top brass Nutrition Prevailing Cure Other Inhibitors Autoantibodies essential subsidize Healing Other side Blocking Anticonvulsant Group therapy less. medicine for impotence Kwhaya kdrnhv

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close