ऋषिकेशधर्म-कर्म

श्यामपुर में आज पौराणिक माघ मगोज महोत्सव का समापन!

विधानसभा अध्यक्ष ने दिन्याली देवी मंदिर के जीर्णोद्धार के लिए अपनी विधायक निधि से 3 लाख रुपए देने की भी घोषणा!


देवभूमि जे के न्यूज़!
ऋषिकेश 10 फरवरी। खैरी कला, श्यामपुर में आज पौराणिक माघ मगोज महोत्सव के समापन अवसर पर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस दौरान क्षेत्रवासियों द्वारा विधानसभा अध्यक्ष का फूल मालाओं से जोरदार स्वागत किया गया।इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने दिन्याली देवी मंदिर के जीर्णोद्धार के लिए अपनी विधायक निधि से 3 लाख रुपए देने की भी घोषणा की।
प्रतापनगर जयकूर घाटी महापंचायत एवं उत्तराखंड महापंचायत के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित दो दिवसीय माघ महोत्सव के समापन अवसर पर सांस्कृतिक कलाकारों द्वारा रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए, खैरी कला में दिन्याली देवी मंदिर के प्रांगण में आयोजित कार्यक्रम के दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने उत्तराखंड की लोक संस्कृति एवं परंपरा को सहेजने का आह्वान किया।इस दौरान गढ़वाली, जौनसारी, कुमाऊनी लोकगीत एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम कलाकारों द्वारा प्रस्तुत की गये।
इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि माघ महीने में श्रद्धालु देश भर से ऋषिकेश में गंगा के पावन तट पर पहुंचकर गंगा में स्नान कर पुण्य लाभ प्राप्त करते हैं।इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि उत्तराखंड के विकास के लिए हम सबको मिलकर कार्य करने का संकल्प लेना होगा, उन्होंने विकास में किसी भी प्रकार की राजनीति ना होने की बात कही। साथ ही उन्होंने कहा कि विकास एक सतत प्रक्रिया है।इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि उत्तराखंड देव भूमि है, जिससे देश के प्रत्येक कोने में उत्तराखंड वासियों को एक अलग सम्मान प्राप्त होता है।
इस अवसर पर गजेंद्र कड़ियाल, डोईवाला के ब्लॉक प्रमुख भगवान पोखरियाल, धीरेंद्र रांगड़, जिला पंचायत सदस्य रीना रांगड़, प्रदीप रमोला, चमन पोखरियाल, मुनेंद्र दत्त गैरोला, अर्जुन सिंह रांगड़, राजपाल पंवार, बॉबी रांगड़, प्रदीप धस्माना, पार्षद विपिन पंथ, पार्षद वीरेंद्र रमोला, सुमेर रांगड़, देव सिंह रांगड़, विनोद बिजलवान, सोभन केंतुरा, भगवान सिंह महर, अनीता राणा सहित कई अन्य लोग उपस्थित थे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

37 Comments

  1. Tactile stimulation Gambit nasal Regurgitation Asymptomatic testing GP Chemical abuse Effect Abet apparatus I Rem Behavior Diagnosis Hypertension Operation Nutrition Prevailing Remedial programme Other Inhibitors Autoantibodies in front grant Healing Other side Blocking Anticonvulsant Remedy less. cialis 20mg mail order Nqkfrv xmdrsf

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close