ऋषिकेशशहर में खासशिक्षा

मेजर गोविंद सिंह रावत को शैलेश मटियानी सर्वोच्च राज्य शिक्षा पुरुस्कार!

सरल, सुह्रदय, मेजर गोविंद सिंह रावत शिक्षा के अलावा सामाजिक क्षेत्र में भी सक्रिय!


देवभूमि जेकेन्यूज ऋषिकेश!
श्री भरत मंदिर इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्य मेजर गोविंद सिंह रावत को शैलेश मटियानी सर्वोच्च राज्य शिक्षा पुरुस्कार मिलने पर विद्यालय में उनका जोरदार स्वागत किया गया।

मेजर गोविंद सिंह रावत का जन्म जन्म गांव बागी पौड़ी खाल टिहरी गढ़वाल में हुआ ,इन्होंने प्राथमिक शिक्षा टिहरी गढ़वाल में और माध्यमिक शिक्षा श्री भरत मंदिर इंटर कॉलेज में तथा इंटरमीडिएट की शिक्षा पंजाब सिंह क्षेत्र इंटर कॉलेज, स्नातक की शिक्षा राजकीय महाविद्यालय ऋषिकेश तथा शिक्षा विशारद की डिग्री के लिए स्वामी राम तीर्थ स्नातकोत्तर महाविद्यालय टिहरी गढ़वाल गए, अपनी शिक्षा दीक्षा पूरी करने के बाद गोविंद सिंह रावत को श्री भरत मंदिर इंटर कॉलेज में प्रथम नियुक्ति 25 9 1989 में मिली

विद्यालय में अपनी नौकरी को पूरी लगन और ईमानदारी और सत्यनिष्ठा से करने के बाद 18 फरवरी 2000 को इनकी पदोन्नति प्रवक्ता समाजशास्त्र के पद पर हुई,इसके साथ ही विद्यालय की ncc की कमान भी गोविंद सिंह रावत दी गई,जिसमे आर्मी प्रशिक्षण लेकर इन्होंने ncc में लेफ्टिनेंट से भर्ती होकर मेजर तक का सर्वोच्च रैंक प्राप्त किया, 1 सितम्बर 2019 को विद्यालय के प्रधानाचार्य बने, इन्होंने कक्षा नौ और 10 के लिए बही खाता की पुस्तकें लिखी व कक्षा 11 और 12 के लिए प्रयोगात्मक समाजशास्त्र की पुस्तक लिखी ,इनका परीक्षा फल सदैव बोर्ड की परीक्षा से अधिक रहा इनके द्वारा विद्यालय के निर्धन और वंचित छात्र छात्राओं के लिए हर तरह की संभव सहायता की गई ,इसके साथ-साथ गोविंद सिंह रावत सामाजिक क्षेत्र में भी अग्रणी भूमिका निभा रहे हैं।
इन्होंने अपने नेत्रदान कर दिए हैं ,पल्स पोलियो रक्तदान गंगा स्वछता नशा मुक्ति , जागरुकता सड़क सुरक्षा वृक्षारोपण जैसे कई कार्यक्रम बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हैं ,इसके अतिरिक्त मेजर गोविंद सिंह रावत जी उत्तराखंड में आई तीनों आपदाओ केदारनाथ आपदा,यमकेश्वर आपदा , उत्तरकाशी प्राकृतिक आपदा में राहत सामग्री लेकर गए जिसमे जान का जोखिम रहता है।
गोविंद सिंह रावत को कुंभ मेला बसंत, मेला स्वच्छता जागरुकता, दहेज उन्मूलन, पल्स पोलियो, ncc के राष्ट्रीय कैंप ,कांवड़ मेला ,राज्य विज्ञान महोत्सव ,विश्व योग दिवस में सर्वोच्च पुरस्कार से नवाजा जा चुका है सम्मान समारोह में। ,उपप्रधानाचार्य यमुना प्रसाद त्रिपाठी, लखविंदर सिंह,सुनील दत्त थपलियाल,जयकृत रावत,शिवप्रसाद बहुगुणा, जितेन्द्र बिष्ट,नीलम जोशी,शालिनी कपूर, सुशीला बर्थवाल,रंजन अंथवाल, विकास नेगी,राजीव शर्मा आदि उपस्थित थे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

80 Comments

  1. I do not even know the way I finished up right here,
    but I thought this put up used to be good. I do
    not realize who you might be but definitely you are going to a
    well-known blogger in case you aren’t already. Cheers!
    adreamoftrains web hosting company

  2. After I originally left a comment I appear to have clicked the -Notify
    me when new comments are added- checkbox and now every time
    a comment is added I receive 4 emails with the same comment.

    Perhaps there is a means you can remove me from that service?
    Appreciate it!

  3. Pretty component to content. I simply stumbled upon your site and in accession capital to say that I acquire in fact
    loved account your blog posts. Anyway I’ll be subscribing on your feeds or even I success you access constantly
    quickly.

  4. Rely granting the us that cease up Trimix Hips are in many cases not associated for refractory other causes, when combined together, mexican dispensary online desire a highly inconstant that is treated for the example generic viagra online Adverse Cardiac. generic furosemide Bfqkka kmewld

  5. Polymorphic epitope,РІ Called thyroid cialis corrupt online uk my letterboxd shuts I havenРІt shunted a urology reversible in yon a week and thats because I tease been prepossessing aspirin ground contributes and contain been associated a piles but you forced to what I specified accept been receiving. http://edvardpl.com Hcfnye lxlipd

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close