Breaking NewsUNCATEGORIZEDअपराधऋषिकेश

*ऋषिकेश – दोस्तों ने हत्या कर शव को फेंका जंगल में -पुलिस ने किया खुलासा*

ऋषिकेश 29/11/2022- मुनि की रेती थाना क्षेत्र अंतर्गत खारास्रोत के जंगल में युवक की हत्या कर शव झाड़ियों में फेकने वाले दो हत्यारे दोस्तों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों की पहचान भूपेंद्र निवासी ग्राम चमेली जनपद टिहरी गढ़वाल और विकेश निवासी यम्केश्वर जनपद पौड़ी गढ़वाल के रूप में हुई है। मामले का खुलासा जनपद टिहरी के एसएसपी नवनीत भुल्लर ने मुनिकीरेती थाने में किया।

हत्यारे दोस्तों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों की पहचान भूपेंद्र निवासी ग्राम चमेली जनपद टिहरी गढ़वाल और विकेश निवासी यम्केश्वर जनपद पौड़ी गढ़वाल के रूप में हुई है। मामले का खुलासा जनपद टिहरी के एसएसपी नवनीत भुल्लर ने मुनिकीरेती थाने में किया।
ज्ञात हो कि 23 नवंबर को मुनि की रेती थाना क्षेत्र अंतर्गत खारास्रोत के जंगल में एक अज्ञात शव पुलिस ने बरामद किया था। जिसकी शिनाख्त पुलिस ने 28 नवंबर को की। पीएम रिपोर्ट और मृतक के भाई की तहरीर के आधार पर पुलिस ने मामले में हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की। जांच के दौरान पुलिस ने हत्या करने वाले मृतक के दो दोस्तों को भद्रकाली के पास से गिरफ्तार कर लिया। दोनों आरोपी मृतक विजय सिंह नेगी के दोस्त हैं। तीनों दोस्त शादी में खाना बनाने का काम करते हैं। 19 नवंबर को तीनों दोस्त पिकनिक मनाने के लिए जंगल में पहुंचे। इस दौरान नशा अधिक होने की वजह से विजय सिंह ने भूपेंद्र और को गालियां देनी शुरू कर दी।
गुस्से में आकर भूपेंद्र और विकेश ने विजय सिंह नेगी के सिर पर पत्थर से वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया। मृतक की पहचान न हो इसलिए उसका चेहरा भी बुरी तरीके से कुचल दिया। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त पत्थर भी बरामद कर लिया है।

एसएसपी नवनीत भुल्लर ने बताया कि आरोपियों को न्यायालय में पेश करने के लिए भेज दिया गया है। मामले का खुलासा करने वाली थाना प्रभारी रितेश शाह की पूरी पुलिस टीम को उन्होंने बतौर इनाम पांच हजार रुपए देने की घोषणा की है।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close