Breaking NewsUNCATEGORIZEDदुःखद समाचार

*दुःखद-मोरबी में केबल पुल टूटा-141 शव बरामद-175 से ज्यादा लोगों को बचाया गया*

डेस्क- गुजरात के मोरबी में रविवार देर शाम मच्छु नदी पर बना केबल पुल टूटने से एक बड़ा हादसा हो गया। इस घटना के दौरान पुल के ऊपर खड़े कई लोग नदी में गिर गए। घटना में अब तक सैकड़ों लोगों की मौत होने की खबर है। मरने वालों में महिलाओं और बच्चों की संख्या अधिक बताई जा रही है। मुख्यमंत्री अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। वहीं, सरकार ने इस घटना का संज्ञान लेते हुए इसकी एस आई टी जांच के आदेश दे दिए हैं।

मिडिया में आ रही खबरों के अनुसार 141 शव बरामद किए गए हैं जबकि और अभी नदीं में हो सकते हैं। फिलहाल इस हादसे में मारे गए लोगों की निश्चित संख्या बता पाना मुश्किल है।

रेस्क्यू ऑपरेशन लगातार जारी है, लेकिन अंधेरा होने के चलते रेस्क्यू में काफी दिक्कतें आ रही थी। पुलिस और प्रशासन की मदद के लिए एनडीआरएफ की तीन की टीमें भी जल्द मौके पर पहुंच गई हैं।

वर्तमान में बचाव अभियान जारी है और कई लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। बताया जा रहा है कि हादसे के वक्त लगभग 500 की तादाद में लोग पुल पर मौजूद थे।ध्रांगधरा के पास एक आर्टिलरी ब्रिगेड से डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ सहित भारतीय सेना की एक टीम पहले ही मोरबी में दुर्घटनास्थल पर पहुंच चुकी है और बचाव और राहत कार्यों में हिस्सा ले रही है। डॉक्टरों और अन्य राहत सामग्री के साथ सेना की एक और टीम शीघ्र ही घटनास्थल पर पहुंच रही है।

सीएम ने मुआवजे का किया ऐलान-

गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने हादसे पर दु:ख जताते हुए मृतकों के परिवार के लिए 4-4 लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये देने का ऐलान किया है। सीएम ने अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं और मोरबी के लिए रवाना हो गए हैं।

यह पुल करीब 100 साल पुराना बताया जा रहा है और कुछ दिन पहले ही इसकी मरम्मत कराई गई थी। मरम्मत के बाद 5 दिन पहले ही इसे आम जनता के लिए फिर से खोला गया था।

पीएम मोदी ने गुजरात के सीएम से की बात, मुआवजे का भी किया ऐलान-

प्रधानमंत्री कार्यालय के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री और अन्य अधिकारियों ने मोरबी में हुई दुर्घटना के संबंध में बात की है। उन्होंने बचाव अभियान के लिए टीमों को तत्काल जुटाने, स्थिति की बारीकी से और लगातार निगरानी करने और प्रभावित लोगों को हर संभव मदद देने को कहा है।

इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मोरबी हादसे में जान गंवाने वालों में से प्रत्येक के परिजनों के लिए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2 लाख रुपये और घायलों को 50,000 रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close