UNCATEGORIZEDउत्तराखण्डधर्म-कर्महरिद्वार

*श्री कृष्णा देसी गोरक्षाशाला में नवरात्रि के द्वितीय पावन पर्व पर गौ दर्शन एवं गौशाला भ्रमण का हुआ आयोजन*

देवभूमि जे के न्यूज (जय कुमार तिवारी-संपादक) हरिद्वार 27 सितंबर 2022- श्री कृष्णा देसी गोरक्षाशाला बायो सीएनजी प्लांट नौरंगाबाद गैडीखाता हरिद्वार में आज नवरात्रि के द्वितीय पावन पर्व पर गौ दर्शन एवं गौशाला भ्रमण का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर देसी गौ रक्षाशाला के संस्थापक अध्यक्ष महामंडलेश्वर स्वामी ईश्वर दास जी महाराज की अध्यक्षता एवं सरंक्षक स्वामी आत्मानंद जी महाराज के संरक्षण में कार्यक्रम संपन्न हुआ।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में उत्तराखंड राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह, कैबिनेट मंत्री उत्तराखंड सरकार धन सिंह रावत, पूर्व कैबिनेट मंत्री उत्तराखंड सरकार स्वामी यतिश्वरानंद जी महाराज, मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के महंत रवींद्र पुरी जी महाराज, ललितानंद गिरि जी महाराज, डॉ शिवकुमार महाराज मेडिकल सुपरिटेंडेंट, दिव्य प्रेम सेवा मिशन के अध्यक्ष आशीष गौतम जी, आनंदधाम ऋषिकेश से रमेश जी महाराज ने सामूहिक रूप से कार्यक्रम में प्रतिभाग किया।

इस अवसर पर उत्तराखंड के राज्यपाल ने पर्यावरण के संरक्षण और संवर्धन में गोवंश के विषय में विस्तार से उपस्थित लोगों को बताया। उन्होंने कहा कि पशुधन है तो यह संसार है और नहीं है तो धरती पर कुछ भी नहीं है। गाय हमारी पालनकर्ता हैं और हमारे पूर्वजों ने गाय को माता के रूप में स्वीकार किया है।

गाय है तो देश की कृषि समृद्ध होगी, गाँव समृद्ध होंगे, देश समृद्ध होगा, और पर्यावरण की रक्षा होगी, तो विश्व बच जाएगा। गौरक्षा (मवेशियों की रक्षा), गोपालन (मवेशियों का पालन) और गौसंवर्धन (मवेशी प्रजनन) सबसे अच्छा पर्यावरण का संरक्षण है। गाय मंदिर-पूजा स्थल है। गाय का दिव्य सार वातावरण को 15-20 मीटर तक शुद्ध और स्वच्छ रखता है। पर्यावरण की शुद्धता के अलावा, यह मन की शांति और पवित्रता को बढ़ावा देता है और बुरे विचारों, बुरे स्पंदनों को रोकता है। यह कहना गलत नहीं होगा कि व्यक्ति, परिवार, गाँव, समाज और वैश्विक भाईचारे की भावना के वास्तविक अर्थ को साकार करने का वैज्ञानिक गुण गौमाता में है।

उन्होंने सभी देशवासियों पशु प्रेमियों और गौ संवर्धन में लगे लोगों से अपील किया कि आज के दिन सभी को एक साथ हाथ से हाथ मिला कर आगे बढ़ना चाहिए। साथ ही साथ गौसेवा (गौ रक्षा) से जुड़ी विभिन्न गतिविधियों में शामिल हो कर गौ सेवा का संकल्प लें।

कार्यक्रम में ग्रामीण क्षेत्रों से आए किसानों ग्रामीणों को गाय के विषय में विस्तार से बताया गया। श्री कृष्णायन देशी गौरक्षाशाला द्वारा किए जा रहे गौ और नंदी के संरक्षण संवर्धन के लिए किए जा रहे उत्कृष्ट कार्यों की सभी वक्ताओं ने भूरी भूरी प्रशंसा की।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close