ऋषिकेशशहर में खास

*एसआरएचयू में ‘द फियरलेस बाघ’ प्रदर्शनी का आयोजन*

*-फोटो प्रदर्शनी के माध्यम से दिया जा रहा है बाघ संरक्षण का संदेश* *-कुलपति डॉ.विजय धस्माना ने किया उद्घाटन, 06 सितंबर तक जारी रहेगी प्रदर्शनी*

देवभूमि जे के न्यूज 02-SEP-2022-

डोईवाला- स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय (एसआरएचयू) जॉलीग्रांट में बाघ संरक्षण जागरूकता को लेकर ‘द फियरलेस बाघ’ नाम से एक फोटो प्रदशर्नी का आयोजन किया जा रहा है। कुलपति डॉ.विजय धस्माना ने फोटो प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। यह फोटो प्रदर्शनी 06 सितंबर तक जारी रहेगी।
एसआरएचयू के नर्सिंग कॉलेज सभागार में आयोजित ‘द फियरलेस बाघ’ फोटो प्रदर्शनी का आयोजन राजाजी टाइगर रिजर्व, दून आर्ट काउंसिल और वाइल्ड लाइफ इंस्ट्टीयूट ऑफ इंडिया द्वारा संयुक्त रूप से किया जा रहा है।
प्रदर्शनी का उद्घाटन व अवोलकन करते हुए कुलपति डॉ.विजय धस्माना ने कहा कि यह बेहद सराहनीय प्रयास है। इससे आम जनता के साथ ही भावी पीड़ी में बाघ संरक्षण को लेकर जागरूकता बढ़ेगी। आज के बच्चे भविष्य में इसे धरोहर के रूप में लेगें। डॉ.धस्माना ने बताया कि प्रदर्शनी में भारत में बाघ संरक्षण के इतिहास और जंगली बाघों की सुरक्षा में वैश्विक स्तर पर भारत की प्रमुख भूमिका पर प्रकाश डाला गया है।
एसआरएचयू लिटरेरी एंड फाइन आर्ड कमेटी के अध्यक्ष डॉ.दुष्यंत गौर ने बताया कि राजाजी टाइगर रिजर्व के निदेशक साकेत बडोला के मार्गदर्शन में, दून कला परिषद के मोनिशा दत्ता और मोहित डांग द्वारा क्यूरेट किए गए कई प्रसिद्ध वन्यजीव फोटोग्राफरों की बाघ की तस्वीरों को प्रदर्शनी में शामिल किया गया है। 06 सितंबर तक फोटो प्रदर्शनी जारी रहेगी।
इस दौरान प्रति कुलपति डॉ.विजेंद्र चौहान, कुलसचिव डॉ.सुशीला शर्मा, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ.एसएल जेठानी, डॉ.संचिता पुगाजंडी आदि मौजूद रहे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close