उत्तराखण्डऋषिकेश

*ऋषिकेश -आजादी के अमृत महोत्सव पर विभाजन की विभीषिका -स्मृति दिवस” उत्तरांचल पंजाबी महासभा द्वारा मनाया गया*

देवभूमि जे के न्यूज 14 अगस्त 2022

उत्तराखण्ड के प्रदेश अध्यक्ष तिलक राज बेहड़ के मार्गदर्शन में उपमा की समस्त इकाइयों, पदाधिकारियों एवम कार्यकर्ताओं द्वारा देश की आजादी को 75 वर्ष पूर्ण होने एवम माo प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के आह्वान पर पूरे देश में आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत विभाजन की विभीषिका -स्मृति दिवस के रूप में 1947 में भारत पाक विभाजन के दौरान 10 लाख हमारे पूर्वजों के बलिदान को याद करते हुए उन हुतात्माओं को श्रद्धांजलि देने हेतु 14 अगस्त 2022 को मां गंगा के तट पर ऋषिकेश में
श्रद्धांजलि सभा,हवन के साथ मां गंगा आरती एवम अन्य कार्यक्रमों का आयोजन किया गया ।


स्मृति दिवस के अवसर पर पूज्य महंत लोकेश दास जी तथा अन्य संतों का सानिध्य तथा पंजाबी समाज के वरिष्ठजनों का मार्गदर्शन प्राप्त हुआ ।
कार्यक्रम में मुख्य अतिथिपद्म सम्मानित डॉ. जितेंद्र सिंह(शंटी)जो कि अब तक 23,000 यूनिट ब्लड लोगों को उपलब्ध करा दिया है और 102 बार स्वयंदे चुके हैं और अब तक 4,200 अंतिम संस्कार करा चुके है कोविड काल में जिसके परिवार ने साथ छोड़ दिया उन सभी का और साथ ही1100 अस्थियों का हरिद्वार में विसर्जन।
कर चुके हैं उनका मार्गदर्शन प्राप्त हुआ। एवम सविता कपूर विधायक (देहरादून )का भी मार्गदर्शन मिला
कार्यक्रम में देशभक्ति पर आधारित एक कार्यक्रम शहीद भगत सिंह पर आधारित का भी आयोजन हुआ ।
कार्यक्रम में देश विभाजन की पीड़ा को जिन्होने सहा उनको अंग वस्त्र पहनाकर सम्मानित किया ।


इस अवसर पर प्रदीप कोहली,दीप शर्मा, प्रतीक कालिया, योगेश पाहवा हरीश ढींगड़ा, के के लांबा , गुरविंदर सिंह गुरी् (पार्षद) हरीश आनन्द,धीरज चतरथ, हरिचरण,प्रिंस मनचंदा,मनमोहन शर्मा, नरेन्द्र खुराना,अमित सूरी,भारत भूषण रावल, सुभाष कोहली,अभिषेक शर्मा,ज्योति शर्मा,हरीश नारंग, गीता मनचंदा, अनिता बेहल ,प्रेम कुमार चंदानी, एवं पंजाबी महासभा के सभी पदाधिकारी व सदस्य तथा लगभग 520 व्यक्ति मौजूद रहे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close