Breaking NewsUNCATEGORIZEDअपराध

*उत्तराखंड-दुष्कर्म पीड़िता ने थानाध्यक्ष पर मामले की जांच के बदले पांच लाख रिस्वत मांगने व संबंध बनाने के लिए बनाया दबाव*

नैनीताल- दुष्कर्म पीड़िता ने मुखानी थानाध्यक्ष पर उनके मामले की जांच के बदले पांच लाख रिस्वत मांगने व संबंध बनाने के लिए दबाव डालने का आरोप लगाया है। पीड़िता ने हाई कोर्ट में बीते मंगलवार को प्राथना पत्र देकर अवगत कराया कि थानाध्यक्ष मुखानी दीपक बिष्ठ उनके मामले की जांच नहीं कर रहे है। इसके बदले वे उनसे पांच लाख रुपये व संबंध बनाने के लिए दबाव डाल रहे है। जिसकी महिला के पास रिकॉर्डिंग भी है। इसकी शिकायत उन्होंने डीजीपी से भी की। पर थानाध्यक्ष के खिलाफ कोई कार्यवाही नही हुई। हाई कोर्ट के संज्ञान में लाने के बाद एसएसपी ने मुखानी थानाध्यक्ष पर मंगलवार शाम 8:45 बजे मुकदमा दर्ज कर लिया है।

बुधवार सुबह सुनवाई के दौरान पुलिस की ओर से कोर्ट को अवगत करवाया गया है कि मामले की जांच के लिए सीओ रामनगर बलजीत सिंह को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है। कोर्ट ने दोपहर दो बजे तक मामले की अब तक की स्टेटस रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा। जिस पर सीओ रामनगर बुधवार दोपहर दो बजे ही कोर्ट में पेश हुए। उन्होंने कोर्ट को अवगत कराया कि एसएचओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही चल रही है।
वहीं अभियुक्त के अधिवक्ता ने कोर्ट को बताया कि तरुण साह पर महिला द्वारा झूठे आरोप लगाए गए हैं। यह दुष्कर्म के अंतर्गत नही आता है। पीड़िता ने यह आरोप 2018 से लगाए थे। चार साल बीत जाने के बाद अब उनके खिलाफ दुष्कर्म करने का आरोप लगाया गया है, जो गलत है। दोनों शादी शुदा है। वहीं दुष्कर्म के आरोपी एनएसयूआई के पूर्व जिलाध्यक्ष तरूण शाह को फिल्हाल हाई कोर्ट से अग्रिम जमानत भी नहीं मिली। मामले को सुनने के बाद न्यायमुर्ति रविन्द्र मैठाणी की एकलपीठ ने अगली सुनवाई हेतु 22 जुलाई की तिथि नियत की है।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close