UNCATEGORIZEDऋषिकेशधर्म-कर्म

*ऋषिकेश- गायत्री आश्रम का चौथा स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया*

देवभूमि जे के न्यूज़ ऋषिकेश 23 जून 2022-
आज चंद्रेश्वर नगर स्थित गायत्री आश्रम में चौथा स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर अनेकों धार्मिक आयोजन किए गए एवं संतों का विशाल भंडारा आयोजित किया गया। जिसमें सैकड़ों संतों एवं लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया।
आयोजन के बिषय में गायत्री आश्रम के संस्थापक अध्यक्ष शीतला शंकर मिश्रा ने बताया कि पारिवारिक सुख-शांति और समृद्धि की प्राप्ति समस्त मनोकमानाओं की पूर्ति शीघ्र विवाह एवं संतान सुख की प्राप्ति जीवन से जुड़े दु:खों को दूर करने और रोगों से मुक्ति के लिए किया जाता है।ऐसा कहा जाता है कि जहां पर भी रामायण का पाठ हो रहा होता है वहां पर हनुमानजी अदृश्य रूप में उपस्थित हो जाते हैं। प्राचीनकाल से ही यह धारणा चली आ रही है। मान लो कि इस वक्त एक ही समय में कई जगह रामायण पाठ हो रहा है तो क्या हनुमानजी सभी जगह एक साथ उपस्थित होंगे?

स्थापना दिवस के उपलक्ष में 50 लोगों को नि:शुल्क श्री बद्रीनाथ धाम की यात्रा पर भी ले जाने का कार्यक्रम रखा गया है।
प्राचीन काल के परंपरा से ही यह प्रचलित है कि जहां भी भक्त भाव से रामायण पाठ का आयोजन होता है हनुमानजी वहां अदृश्य रूप से उपस्थित हो जाते हैं। उनके लिए समय और स्थान किसी भी प्रकार से बाधा नहीं बनता। वह एक ही समय में कई स्थानों की पाठ सुनने में सक्षम हैं।
इस धार्मिक आयोजन में मुख्य रूप से गायत्री देवी, सुरेश चंद्र मिश्रा, समीक्षा मिश्रा, राकेश चंद्र मिश्रा ,आद्या मिश्रा, देवांश मिश्रा, शिवांश मिश्रा, आदर्श मिश्रा ,नव्या मिश्रा ,अंशु मिश्रा,दिव्यांश मिश्रा शामिल थे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close