Breaking Newsअपराध

*ऋषिकेश-एक्सीडेंट कर युवती को घायल करने वाला अभियुक्त गिरफ्तार*

उपचार के दौरान युवती की मृत्यु होने पर हो गया था फरार*

देवभूमि जे के न्यूजऋषिकेश,जनपद देहरादून20 जून 2022-कोतवाली ऋषिकेश में दिनांक 9 /6/ 2022 को शिकायतकर्ता देवेश डोभाल पुत्र रामप्रसाद डोभाल निवासी गली नंबर 9 सोमेश्वर नगर ऋषिकेश
के द्वारा एक प्रार्थना पत्र दिया कि दिनांक 9 जून की दोपहर करीब 3:00 बजे मेरी भतीजी खांड गांव के पास टेंपो की प्रतीक्षा कर रही थी कि तभी एक स्कॉर्पियो वाहन संख्या MP07-BA-3281 के चालक द्वारा टेंपो को जोर से टक्कर मारी और टेंपू मेरी भतीजी ईशा के ऊपर आकर गिर गया। जिसको तत्काल राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश ले जाया गया। जहां हालत गंभीर होने पर उसे एम्स अस्पताल में भर्ती किया गया है। हमें संदेह है कि इसका हमें संदेह है कि इसका के वाहन का चालक नशे में वाहन चला रहा था।
शिकायतकर्ता की उक्त शिकायत पर कोतवाली ऋषिकेश में तत्काल मुकदमा अपराध संख्या 267/ 22 संबंधित धारा में पंजीकृत कर विवेचना प्रारंभ की गई।
मामले की जानकारी उच्च अधिकारी गणों को दी है। जिस पर पुलिस उप-महानिरीक्षक/ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद देहरादून के द्वारा अभियुक्त की गिरफ्तारी करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश महोदय के निर्देशन में पुलिस एवं एसओजी देहात की एक टीम गठित की है। जिनको आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
वाहन नंबर की डिटेल से प्राप्त नाम पते को सत्यापित करते हुए पुलिस टीम अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु ग्वालियर एवं मध्य प्रदेश आदि जगहों पर रवाना हुई।जिसपर आज दिनांक 20 जून 2022 को वापस आते समय मुखबिर की सूचना पर उक्त अभियुक्त को नेपाली तिराहे के पास से गिरफ्तार किया गया है।

नाम पता अभियुक्त-शिव प्रताप सिंह राघव पुत्र एनपी सिंह राघव निवासी अंतौबाई रोड, गणेशपुरा थाना कोतवाली सिटी मुरैना मध्य प्रदेश.
को समय से माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जाएगा।

पुलिस टीम-
ओमकांत भूषण*
(प्रभारी एसओजी देहात)

उत्तम रमोला*
(प्रभारी बस अड्डा चौकी)

*आरक्षी मनोज कुमार एसओजी देहात*

*आरक्षी नीरज कुमार एसओजी देहात*

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close