ऋषिकेश

*लक्ष्मणझूला रोड और खारश्रोत आस्था पथ से हटाया अतिक्रमण*

चारधाम यात्रा के मद्देनजर राजस्व, नगर पालिका परिषद मुनिकीरेती-ढालवाला और पुलिस प्रशासन ने संयुक्त रूप से की कार्यवाही।

देवभूमि जे के न्यूज- 10.05.2022-ऋषिकेश/नरेंद्रनगर/टिहरी-चारधाम यात्रा के मद्देनजर मंगलवार को राजस्व विभाग, नगर पालिका परिषद मुनिकीरेती-ढालवाला और पुलिस प्रशासन की संयुक्त टीम ने लक्ष्मणझूला रोड और खाराश्रोत आस्था पथ में पसरे रेहड़ियों व फड़ों के अतिक्रमण को हटाया। अचानक हुई इस कार्यवाही से रेहड़ी व फड़ विक्रेताओं में अफरा-तफरी का माहौल बना रहा।
मंगलवार को एसडीएम नरेंद्रनगर देवेंद्र नेगी के नेतृत्व में राजस्व विभाग, नगर पालिका परिषद मुनिकीरेती-ढालवाला एवं स्थानीय पुलिस प्रशासन की टीम निकाय कार्यालय में एकत्र हुई। यहां से लक्ष्मणझूला मार्ग खाराश्रोत, रामझूला, आस्था पथ आदि पर पसरे रेहड़ियों और फड़ों के अतिक्रमण को हटाने की कार्यवाही शुरू की गई। कार्यवाही को देख रेहड़ी व फड़ विक्रेताओं में अफरा-तफरी मच गई, आनन-फानन में अतिक्रमणकारी अपना समेटते हुए नजर आए। कई जगहों पर जेसीबी की सहायता से अतिक्रमण हटाया गया, इस दौरान दर्जन भर से अधिक अतिक्रमण सामग्री को टीम ने अपने कब्जे में लिया।
एसडीएम नरेंद्रनगर देवेंद्र नेगी ने बताया कि वर्तमान में चारधाम यात्रा अपने चरम पर है। प्रतिदिन हजारों की तादाद में पर्यटक मुनिकीरेती क्षेत्र पहुंच रहे हैं। यहां से पर्यटक चारधाम के लिए पहाड़ी रूटों पर रवाना होते हैं। अतिक्रमण के कारण आए दिन हाइवे पर जाम आदि की समस्या से पर्यटकों और स्थानीय लोगों को जूझना पड़ता है। शासन के निर्देशानुसार इन समस्याओं से निजात दिलाने के लिए लक्ष्मणझूला रोड पर पसरे रेहड़ियों व फड़ों के अतिक्रमण को हटाया गया है।
मौके पर ईओ तनवीर मारवाह, मुनिकीरेती थाना प्रभारी रितेश शाह, कर निरीक्षक अनुराधा गोयल, सफाई निरीक्षक भूपेन्द्र सिंह पंवार, कर संग्रहकर्ता केतन शर्मा, पुलिस उपनिरीक्षक सचिन पुंडीर, उपनिरीक्षक रीना नेगी, उपनिरीक्षक यशवन्त सिंह खत्री, पटवारी निधि थपलियाल, वर्क एजेंट जितेंद्र सजवाण आदि उपस्थित थे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close