Breaking News

*उत्तराखंड- बीजेपी- कांग्रेस में किसके सर पर होगा ताज-पढ़े ताज़ा टीवी ओपिनियन पोल सर्वे*

उत्तराखंड में भाजपा फिर सत्ता हासिल करने में कामयाब रहेगी या अन्य पार्टी बाजी पलट देगी? भले ही इन सवालों का सटीक जवाब 10 मार्च को मिलेगा, लेकिन रिपब्लिक भारत- पी मॉर्क के ओपिनियन पोल में भाजपा और कांग्रेस में कांटे की टक्कर दिख रही है तो वहीं दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी भी दोनों पार्टियों के वोट बैंक पर सेंध लगाने को भी तैयार बैठी है।

रिपब्लिक भारत की ओर से प्रसारित ओपनियन पोल में कहा गया है कि उत्तराखंड की 70 सीटों वाली विधानसभा में बीजेपी आसान जीत दर्ज करेगी। प्री-पोल सर्वे के मुताबिक, बीजेपी को 36 से 42 सीटें मिल सकती हैं। वहीं, विपक्षी पार्टी कांग्रेस की बात करें तो इस बार उन्हें 25 से 31 सीटों पर ही संतुष्ट होना पड़ेगा। कर्नल अजय कोठियाल के नेतृत्व में चुनावी मैदान में उतरने वाली आम आदमी पार्टी 0-2 सीटों पर ही सिमट सकती है।

ओपिनियन पोल की बात करें तो मुख्यमंत्री चेहरे पर 39.90 फीसदी वोटों के साथ पुष्कर सिंह धामी लोगों की पहली पसंद बने हुए हैं। युवा चेहरा होने के साथ ही ताबातोड़ घोषणांए करने वाले धामी को एक बार फिर लोग उत्तराखंड के मुखिया के रूप में देखना चाहते हैं, जबकि 37.50 प्रतिशत के साथ कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत दूसरे नंबर पर लोगों की पसंद है और आम आदमी पार्टी के कर्नल अजय कोठियाल 13.1 फीसदी वोटों के साथ लोगों की तीसरी पसंद बने हुए हैं।

भाजपा: धामी समेत कई हैं कई चेहरे-
भाजपा में फिलहाल सीएम के रूप में वर्तमान सीएम पुष्कर सिंह धामी ही सबसे आगे हैं। जुलाई 2021 में वर्तमान सरकार के तीसरे सीएम के रूप में कार्यभार संभालने के बाद धामी ने लगातार प्रदेश के दौरे पर हैं। पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जयप्रकाश नड्डा समेत सभी नेता धामी को भविष्य बता चुके हैं। इससे माना जा रहा है कि भाजपा में फिलहाल धामी ही सीएम को चेहरा हो सकते हैं। हालांकि, पार्टी में मुख्यमंत्री के कई दावेदार हैं, इनमें पूर्व सीएम डा. रमेश पोखरियाल निशंक, पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत, राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी और कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज भी शामिल हैं।

कांग्रेस: रावत, प्रीतम और आर्य-गोदियाल भी
कांग्रेस में जाहिर तौर पर इस वक्त चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष पूर्व सीएम हरीश रावत और नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ही भावी सीएम की दौड़ में है। दोनों के समर्थकों का मानना है कि कांग्रेस के सत्ता में आने पर इनमें ही एक व्यक्ति सीएम बनेगा। इन सबके बीच जिस प्रकार दलित सीएम की बात कांग्रेस में आती रही है, उससे यशपाल आर्य का नाम भी इस दौड़ में शामिल हो जाता है। इधर, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल के समर्थक उन्हें छुपे रूस्तम की तरह देख रहे हैं। सत्ता में आने पर सीएम के पद के शीर्ष नेताओं में संघर्ष होने पर गोदियाल को मौका मिल सकता है।

आप पार्टी की बात करें तो आम आदमी पार्टी ने कर्नल कोठियाल को पहले ही अपना मुख्यमंत्री घोषित कर चुकी है।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close