Breaking News

*ऋषिकेश-आम आदमी पार्टी -डाक्टर राजे नेगी के नाम पर पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं में आक्रोश-चुनाव में करेंगे विरोध*

ऋषिकेश-09/01/2021 आप पार्टी द्वारा उत्तराखंड के विधानसभा चुनाव को लेकर जारी की गई, प्रत्याशियों की सूची में ऋषिकेश के प्रत्याशी डा. राजे नेगी का नाम घोषित किए जाने के बाद ऋषिकेश आप पार्टी के कार्यकर्ताओं में विद्रोह की चिंगारी फूट गई है ।
जिन्होंने ऋषिकेश के प्रत्याशी के विरोध में प्रचार प्रसार कर हराने का संकल्प लिया है ।यह जानकारी रविवार को ऋषिकेश में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरानआप पार्टी के पूर्व प्रदेश प्रवक्ता और मीडिया प्रभारी संजय सिलस्वाल, ने देते हुए बताया कि आप पार्टी के संयोजक दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल द्वारा पार्टी में शुचिता लाए जाने के साथ बेदाग छवि के व्यक्ति को टिकट दिए जाने की बात कही थी, लेकिन पार्टी हाईकमान द्वारा ऋषिकेश के ऐसे व्यक्ति को पार्टी का टिकट दिया गया हैः।जोकि डॉक्टर के नाम पर समाज में धब्बा है ,जिसके पास ना तो कोई डिग्री है और ना ही चिकित्सक के गुण जो कि अपने आप को कहीं पर डॉक्टर लिखते हैं, और कहीं सिर्फ अपने नाम का उपयोग करते हैं ।यहां तक कि कई स्थानों पर उन्होंने अपने आप को नेत्र विशेषज्ञ की उपाधि से भी प्रचारित किया है। जिसे लेकर पार्टी कार्यकर्ताओं में भारी रोष व्याप्त है ।

उन्होंने कहा कि आप संयोजक केजरीवाल ने ही अपनी मीटिंग में कहा था, कि अगर प्रत्याशी पर किसी भी प्रकार का आरोप हो तो उसका विरोध कर उसे हराने का प्रयास करें, सिलस्वाल ने कहा कि हम ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र में प्रत्याशी का विरोध करेंगे ,लेकिन पार्टी का नहीं उन्होंने हाईकमान से पार्टी प्रत्याशी बदले जाने की मांग भी की है ।उन्होंने बताया कि ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र में 2,000 से अधिक उनके कर्मठ और सक्रिय कार्यकर्ता है। उनका यह भी आरोप था कि जब से राजे नेगी ने पार्टी की सदस्यता ली है। उन्होंने पार्टी को हरिपुर कला से नेपाली फार्म तक सीमित कर दिया है ।जबकि इसके ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र का दायरा काफी बड़ा है।
पत्रकार वार्ता में सर्किल इंचार्ज जयैद्र तडियाल, मनोज कोठियाल, विजय पाल सिंह रावत, आशुतोष जुगलान, मंडल अध्यक्ष विजेंद्र पासवान, सहित अन्य कार्यकर्ता भी उपस्थित थे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close