ऋषिकेशराजनीति

*अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य जयेंद्र रमोला ने ग्रामसभा गौहरीमाफी में घर घर जा कर किया जनसंपर्क*

आज दिनांक 31/12/2021 को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य जयेंद्र रमोला ने ग्रामसभा गौहरीमाफी में घर घर जा कर जनसंपर्क कर लोगों से आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के पक्ष में मतदान देने की अपील कर आम जनमानस से मुलाकात कर कांग्रेस के द्वारा पूर्व में किये गये कार्यों को भी बताया ।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य जयेंद्र रमोला ने कहा कि ग्रामसभा गौहरीमाफी माफी लगातार बाढ की मार से झेल रहा है पिछले पन्द्रह वर्षों से एक ही विधायक सत्ता पर क़ाबिज़ हैं परन्तु यहॉं की स्थिति जस की तस है इसलिये अब जनता अपनी वोट की ताकत को पहचान कर अपने एक वोट से अपने गाँव व ऋषिकेश विधानसभा की तस्वीर बदलेंगे । रमोला ने बताया कि आगामी विधानसभा चुनाव में प्रदेश में महंगाई व बेरोजगारी के लिए जिम्मेदार भाजपा की विदाई व कांग्रेस की सरकार बनना तय है। पूरे प्रदेश में जनता महंगाई से त्रस्त है, अनाज ,दाल, सब्जियां ,सरसों का तेल ,पेट्रोल, डीजल समेत आम इंसान की उपयोग में आने वाली वस्तुओं के दाम आसमान छू रहे हैं। रमोला ने बताया की स्थानीय विधायक ने ग्रामीण क्षेत्र की जनता के लिए कुछ भी कार्य नहीं किया है, 15 सालों में यहां का विकास शून्य के बराबर हुआ है, गौहरीमाफी में हर साल यहां के लोग बाढ़ की समस्या से परेशान होते हैं परंतु सरकार द्वारा बाढ़ नियंत्रण के लिए कोई उचित योजना नहीं बनाई है ओर ना ही स्थानीय विधायक ने इस ओर ध्यान दिया है। वे सत्ता का सुख भोगने में व्यस्त हैं। अब जनता भाजपा को बेदखल कर कांग्रेस को सत्ता सौंपने का मन बना चुकी है।

एडवोकेट देव सेमवाल ने कहा कि स्थानीय विधायक हर बार चुनाव में आते है बाढ़ नियंत्रण, रोड़ों के सुधारीकरण का वादा करते हैं व क्षेत्र की भोली भाली जनता को झूठे आश्वासन देकर उनको अपनी ओर कर वोट लेते हैं और फिर पूरे कार्यकाल में अपना मुँह फेर लेते हैं, लेकिन इस बार जनता ने मन बना लिया है और इस बार विधायक व प्रदेश में भाजपा सरकार की विदाई तय है।
जनसम्पर्क कार्यक्रम में देव सेमवाल, गजेन्द्र शाही, शेर सिंह रांगढ, जगबीर नेगी, नवदीप बगियाल, अलका क्षेत्री, सरिता भद्री , जयपाल, गणेश नौटियाल, राजाराम कोठियाल, त्रिलोक सिंह, वीरेन्द्र पोखरियाल, आदित्य आदि लोग मौजूद थे ।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close