Breaking News

*ब्रेकिंग न्यूज़- उत्तराखंड आगामी विधानसभा चुनाव में 15 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे हक- हुकूकधारी महापंचायत समिति के सदस्य*

पत्रकार वार्ता में शामिल हक हुकूक धारी।

चार धाम तीर्थ पुरोहित हक हुकूक धारी महा पंचायत समिति द्वारा भगवान आश्रम में एक पत्रकार वार्ता का आयोजन किया गया।
पत्रकारों से वार्ता करते हुए समिति के अध्यक्ष कृष्णकांत कोठियाल ने कहा कि सरकार चार धाम में हक हुक़ूक़ धारियों पर काला कानून थोप रही है, जोकि तर्कसंगत नहीं है। पिछले ढाई सालों से हम अपनी मांग के समर्थन में आवाज उठा रहे हैं लेकिन हमारी आवाज को दबाया जा रहा है।
बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति पूर्ण रूप से धार्मिक रीति-रिवाजों और मंदिर के संविधान में लिखित और पुराणों में वर्णित विधि से पूजा पाठ करते आया है लेकिन देवस्थानम बोर्ड बनाकर मुख्य सचिवों और अधिकारियों को उसका संरक्षक बनाकर सरकार हिंदू धर्म के साथ घोर अन्याय कर रही है। भराड़ीसैंण में आयोजित शीतकालीन सत्र का हम पुरजोर विरोध करेंगे। सरकार चाहे कहीं भी देहरादून, भराड़ीसैंण अथवा गैरसैंण में शीतकालीन सत्र बुलाएगी वहां पहुंचने के लिए हमारी लाशों से उन्हें गुजरना होगा। हम सेवक नहीं, हम पुरोहित हैं! हम पुरोहित हैं! हम पुरोहित हैं! के नारे भी लगाए गए!
इसके साथ ही समिति के अध्यक्ष ने यह घोषणा की कि आने वाले चुनाव में हम 15 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे और जीत कर दिखाएंगे। डबल इंजन की सरकार हमारी मांगों के ऊपर विचार नहीं कर रही है जोकि तर्कसंगत नहीं है।
चार धाम तीर्थ पुरोहित हक हुकूक धारी महा पंचायत समिति पूरे देश में यजमानों को पोस्ट कार्ड के माध्यम से चार धाम देवस्थानम बोर्ड का विरोध किया जाएगा वह देश के कोने कोने से तीर्थ पुरोहित व हक हूकूक धारी समाज द्वारा प्रेषित किया जाएगा।

पत्रकार वार्ता में अध्यक्ष कृष्णकांत कोठियाल, महामंत्री हरीश डिमरी, कोषाध्यक्ष लक्ष्मीनारायण जुगराण, उपाध्यक्ष विनोद शुक्ला, संतोष त्रिवेदी, अखिलेश कोठियाल, विजय बगवाड़ी, देवेंद्र कुमार शर्मा, देवेंद्र प्रसाद डिमरी, दिनेश डिमरी, मोहन प्रसाद डिमरी ,रमेश चंद देवरी, गौरव डिमरी, प्रशांत भट्ट ,उमेश चंद्र, कुबेर नाथ बछेती, दुर्गा प्रसाद भट्ट, धर्मेंद्र डिमरी सहित तमाम लोग उपस्थित थे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close