ऋषिकेश

*छठ पूजा त्रिवेणी घाट के आरक्षण में निगम ने किया सौतेला व्यवहार-रामकृपाल गौतम*

पत्रकार वार्ता करते सार्वजनिक छठ पूजा समिति के सदस्य।

सार्वजनिक छठ पूजन समिति त्रिवेणी घाट ऋषिकेश द्वारा झंडा चौक पर श्री भरत मंदिर के प्रांगण में एक पत्रकार वार्ता का आयोजन किया।
समिति के अध्यक्ष रामकृपाल गौतम ने पत्रकारों को बताया कि विगत वर्षों की भांति इस वर्ष भी छठ पर्व के लिए त्रिवेणी घाट व अन्य घाट का हम स्वयं आरक्षण हेतु सहायक नगर आयुक्त को दिनांक 29 /9 2021 को दिए गए प्रार्थना पत्र को दरकिनार करते हुए नगर निगम के जिम्मेदार अधिकारी द्वारा एक अन्य संस्था को दिनांक 12:10 2021 को दिए गए प्रार्थना पत्र पर एक ही दिवस से से पूर्ण कार्यवाही कर नियमों को ताक पर रखकर रसीद जारी कर दी गई। जबकि हमारे द्वारा 14 दिन पूर्व दिए गए हमारे प्रार्थना पत्र पर कोई कार्रवाई नहीं हुई इससे इन भ्रष्ट अधिकारियों के भ्रष्टाचार का पता लगता है। जिसकी हमारे द्वारा शिकायत शासन प्रशासन को की गई है। कार्रवाई ना होने के कारण मैंने इन भ्रष्ट अधिकारियों की शिकायत माननीय मुख्यमंत्री के पोर्टल पर भी की है। परंतु अभी तक न्याय न मिलने के कारण मैं पत्रकारों के माध्यम से न्याय की आशा करते हुए अपनी शिकायत पत्र सभी पत्रकार बंधुओं को दे रहा हूं। जिसमें हमें शीघ्र न्याय मिले और अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई हो तथा शीघ्र पूजा करने हेतु नियमानुसार अनुमति मिले। समिति द्वारा पूजन का कार्य8/11/ 2021 से शुरू हो जाएगी‌ यदि उसे कोई विवाद होता है तो उसकी संपूर्ण जिम्मेदारी नगर निगम और शासन प्रशासन की होगी।
पत्रकारों के प्रश्न के उत्तर में रामकृपाल गौतम ने बताया कि विगत आठ 9 सालों से मैं स्वयं अध्यक्ष पद पर रहकर छठ पूजा की व्यवस्था में लगा हुआ था त्रिवेणी घाट पर छठ पूजा के दौरान हमारी संपूर्ण व्यवस्था होती थी। लेकिन इस बार एक दूसरे ग्रुप में इसमें हस्तक्षेप करते हुए हमारे आवेदन पत्र को निरस्त करवा कर त्रिवेणी घाट को बुक करवा लिया। यदि शासन प्रशासन हमें इजाजत नहीं देता है तो हम मौन रूप से छठ पूजा करेंगे।
वही ललन राजभर का कहना था कि समिति के सदस्य अपने जेब से खर्च कर पूजा करें, बाहरी किसी व्यक्ति से चंदा नहीं लेना चाहिए। चंदा खोरी बंद होने चाहिए और छठ पूजा अपने जेब से मानना चाहिए। बाहर से चंदा लेने से लोगों में गलत संदेश जाता है।
पत्रकार वार्ता में मुख्य रूप से रामकृपाल गौतम, परमेश्वर राजभर, वीर बहादुर राजभर ,नागेंद्र सिंह, राजू गुप्ता, अमित चौधरी, राज कुमार राजभर, लल्लन राजभर, सतीश राजभर, आशुतोष शर्मा सहित तमाम लोग उपस्थित थे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close