ऋषिकेश

*ऋषिकेश के निराश्रित पशुओं के आए अच्छे दिन-अनिता ममगाई*

*पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया निगम की गौशाला का उद्घाटन* *गौशाला में निराश्रित पशुओं के भोजन के साथ होगी उपचार की भी व्यवस्था-महापौर* *गौशाला के संचालन के लिए ऋषिकेश सेवा समिति ने कार्यक्रम के दौरान मेयर को सौंपा सवा लाख का चेक*

ऋषिकेश-ऋषिकेश क्षेत्र के निराश्रित ,गौवंश हेतु गौशाला का उद्वाटन उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया।इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि प्रदेश सरकार ने गौशालाओं के निर्माण में जिस कौशल का परिचय दिया है, वही कौशल गौशालाओं के संचालन में भी दिखाना होगा तभी उद्देश्य की प्राप्ति होगी |उन्होनंने गौशाला का निरीक्षण भी किया और अवलोकन के दौरान संबंधित अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों से चर्चा भी की। इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि गौशाला खोलना और उनकी सेवा करना सिर्फ धर्म ही नहीं हमारा कर्तव्य भी है।

रविवार को शांकरी गांव, निकट भानियावाला में ऋषिकेश ऋषिकेश सेवा समिति के विशेष सहयोग से नगर निगम के गौशाला का उद्वाटन एक समारोह के बीच प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने किया।इस अवसर पर मोजूद उपस्थिति को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार निराश्रित पशुओं को संरक्षण दिलाने के लिए कटिबद्ध है। रोहित ठाकुर यदि सामर्थ्य महान लोग एक-एक निराश्रित पशुओं को गोद लेने का संकल्प लें तो काफी हद तक समस्या का समाधान स्थाई रूप से किया जा सकता । कहा कि आस्था की प्रतीक गौमाता को संरक्षण एवं सम्मानित जीवन देने के लिए सामूहिक प्रयास की जरूरत है। सरकार ने प्रदेश में गऊ रक्षा पर सख्त कानून भी लागू करने शुरू किए हैं ,जिसके सकारात्मक परिणाम भी सामने आए हैं। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए नगर निगम महापौर अनिता ममगाई ने कहा कि वर्षों से आवारा पशु शहर की यातायात व्यवस्था में अवरोध उत्पन करते रहे हैं।निगम की कमान संभालने के तुरंत बाद उन्होंने शहरवासियों को इस गंभीर समस्या से निजात दिलाने के लिए कवायद शुरू कर दी थी।लेकिन गौशाला के निर्माण में आवश्यक भूमि सबसे बड़ी चुनौती रही।जिसपर लंबी मशक्कत के बाद सफलता हासिल हुई ।उन्होंने कहा कि गौशाला में ऋषिकेश के तमाम आवारा पशुओं को शिफ्ट कराया जाएगा। जिसके बाद उन्हे पूर्ण विश्वास है कि शहरवासियों को आवारा पशुओं के आतंक से निजात मिल जाएगी। उन्होंने बताया कि गोशाला में निराश्रित पशुओं के संपूर्ण भोजन की व्यवस्था के साथ बीमार एवं चोटिल पशुओं का उपचार भी किया जाएगा।महापौर के अनुसार करीब 280 निराश्रित पशुओं कों कांजी हाऊस पहुंचाया जा चुका है।उन्होंने बताया कि निगम द्वारा गौ प्रमियों सहित सामाजिक संस्थाओं से गौशाला के संचालन में सहयोग की अपील की गई थी जिसमें ऋषिकेश सेवा समिति ने सवाा लाख का
चेक मेयर को सौंपा।टीएच डी सी ने भी निगम को गौशाला के संचालन में मदद का भरोसा दिलाया है।
इस अवसर पर पशु कल्याण विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ आशुतोष जोशी ,अधिशासी अभियंता विनोद कुमार जोशी, दून एनिमल वेलफेयर एसोसिएशन के आशू अरोड़ा, मिली कौर,विनय कंडवाल,पूर्व राज्य मंत्री संदीप गुप्ता,करण बोहरा, जिला पंचायत सदस्य दिव्या बेलवाल, पंकज शर्मा, ममता नयाल, मनीष बनवाल, विजेंद्र मोगा,डॉ आर के भारद्वाज, सुरेश सूरी, कमांडर अजय धीर, विशन खन्ना, दीप सुनेजा, अशोक गुप्ता ,बच्चन पोखरियाल, मदन कोठरी,हैप्पी सेमवाल, गौरव कैंथोला, परीक्षित मेहरा, राजेश कोठियाल, सुरेंद्र सिंह नेगी, रेखा सजवान,मनीष मिश्रा आदि मौजूद रहे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close