मनोरंजन

*”श्री देव सुमन” गढ़वाली फिल्म के कलाकारों ने की महाराज से मुलाकात*

*उत्तराखंड फिल्मों की शूटिंग के लिए एक शानदार डेस्टिनेशन हैः सतपाल महाराज*

*15 अक्टूबर 2021*

हरिद्वार। प्रदेश के कैबिनेट मंत्री श्री सतपाल महाराज ने शुक्रवार को प्रेम नगर आश्रम हरिद्वार में पहाड़ी रत्न श्री देव सुमन गढ़वाली फिल्म की शूटिंग के दौरान फिल्म कलाकारों और निर्माता श्री विक्रम नेगी पहाड़ी से मुलाकात कर उन्हें शुभकामनाएं दी।

श्री सतपाल महाराज ने
पहाड़ी रत्न श्री देव सुमन गढ़वाली फिल्म के निर्माता श्री विक्रम नेगी पहाड़ी से उत्तराखंड की संस्कृति और कला को आगे बढ़ाने के लिए फीचर फिल्म निर्माताओं व ओटीटी प्लेटफार्म पर सब्सिडी के बारे में विस्तार से चर्चा की।

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि उत्तराखंड की विभूतियों पर फिल्म बन रही है यह एक सराहनीय प्रयास है। श्री महाराज ने कहा कि उत्तराखंड फिल्मों की शूटिंग के लिए एक शानदार डेस्टिनेशन है और शूटिंग करने के लिए बहुत सुंदर जगह है। उन्होने कहा कि उत्तराखंड की विभूतियों पर आधारित फिल्मों का जो निर्माण करेगा उनको विशेष छूट जाए दी जाएगी। पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री ने कहा कि श्रीदेव सुमन के जीवन के बारे में सभी जानकारी होनी चाहिए। उनका जो बलिदान था वह व्यर्थ ना जाए। निश्चित रूप में आज उनकी गाथाएं जनमानस तक पहुंचे और हमारी युवा पीढ़ी खास करके उनके बारे में जाने कि हमारे यहां कैसे-कैसे महापुरूष हुए।

पर्यटन मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री का यह लक्ष्य है कि जो गुमनामी में हमारे बहुत से महापुरूष चले गए हैं उनके बारे में आने वाली पीढी जाने। हमने ओटीटी प्लेटफॉर्म मुंबई में बातचीत की है। उनसे हमने कहा कि अगर आप हमारे उत्तराखंड में फिल्म बनाते हैं तो आपको इंसेंटिव देंगे और इसके साथ-साथ अगर आप हमारे उत्तराखंड के कलाकारों को लेते हैं तो उनको भी इंसेंटिव देंगे।

गढ़वाली फीचर फिल्म के निर्माता विक्रम नेगी पहाड़ी ने इस मौके पर कहा कि मैं महाराज जी का तहे दिल से स्वागत करता हूं जब आप जैसे फिल्म सिटी को प्यार करोगे और अपनी गढ़वाली भाषा से प्यार करेंगे तो निश्चित हम सफलता प्राप्त करेंगे। उन्होंने कहा आप के पर्यटन मंत्री रहते हुए हिंदी फिल्मों की तरह गढ़वाली फिल्मों की भी सब्सिडी को बढ़ाया जाए और सरकार की अनुमति को ही पूरे प्रदेश में शूटिंग की परमिशन समझा जाए ताकि किसी निर्माता को फिल्म निर्माण में कोई कष्ट ना हो।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close