अपराधनैनीताल

*उत्तराखंड-नशेडी़ प्रेमी को नशा करने से रोकती थी प्रेमिका- प्रेमी ने गैंगरेप करवाकर मार डाला*


नैनीताल का खूबसूरत शहर हल्द्वानी- यहां बनभूलपुरा थाना क्षेत्र के इंदिरा नगर के जंगलों में एक नाबालिग लड़की का शव मिला था। मरने वाली किशोरी सिर्फ 14 साल की थी। पुलिस की जांच आगे बढ़ी तो किशोरी को मारने वाले युवक भी पकड़े गए। पूछताछ में दोनों आरोपियों ने कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं। नाबालिग लड़की का हत्यारा कोई और नहीं बल्कि उसका प्रेमी ही निकाला। आरोपी युवकों में से एक के साथ नाबालिग का प्रेम प्रसंग चल रहा था। आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसकी प्रेमिका उसे नशा करने से रोकती थी, इसलिए उसने गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी।हत्या से पहले आरोपी ने अपने दोस्त संग मिलकर लड़की के साथ गैंगरेप भी किया था। पकड़े गए दोनों आरोपी स्टील की आलमारी बनाने का काम करते थे और नशे के आदी भी हैं। आपको बता दें कि 29 सितंबर को इंदिरा नगर में रहने वाली 14 साल की किशोरी लापता हो गई थी। परिजनों ने उसकी गुमशुदगी हल्द्वानी के बनभूलपुरा थाने में दर्ज कराई थी। पुलिस ने लड़की की जानकारी के लिए इलाके में करीब 100 सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाले। इसी के आधार पर पुलिस को हत्यारों का कुछ सुराग मिला।
इस मामले में पुलिस ने लड़की के प्रेमी मोहम्मद दानिश और उसके दोस्त जीशान को गिरफ्तार किया है. सख्ती से पूछताछ करने पर मोहम्मद दानिश बताया कि लड़की उससे प्यार करती थी, लेकिन उसकी नशे की आदत की वजह से उसे रोकती-टोकती थी, इसलिए वो उससे परेशान हो गया था। 29 सितंबर को दानिश ने अपने दोस्त जीशान से कहा कि लड़की को इंदिरा नगर के जंगल में पुलिया के पास लेकर आए। जब लड़की अपने प्रेमी से मिलने पहुंची तो आरोपी दानिश और जीशान ने नाबालिग संग दुष्कर्म किया। प्रेमी की इस हरकत ने किशोरी को झकझोर कर रख दिया। उसने दानिश और जीशान को धमकी दी कि वो अपने परिजनों को सारी बात बताएगी और उन्हें जेल भिजवाएगी। जिस पर दोनों लड़कों ने दुपट्टे से गला घोंटकर किशोरी की हत्या कर दी। दोनों आरोपियों के खिलाफ धारा 363, 376, 302 और पॉक्सो एक्ट सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने की कार्रवाई की गई है।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close