Breaking News

*उत्तराखंड -19 PCS अधिकारियों के हुए तबादले-कौन किधर गया -पढ़ें पूरी खबर*

उत्तराखंड में चुनावी साल के चलते व्यपक स्तर पर बड़े बदलाव हो रहे हैं। कुछ दिन पहले आईएएस-पीसीएस अफसरों की जिम्मेदारी में फेरबदल हुआ था। अब देर रात 19 पीसीएस अधिकारियों को इधर से उधर कर दिया गया। कुछ अफसरों से पुरानी जिम्मेदारी वापस ली गई है, तो कुछ को नई जगह तैनात किया गया है। किसे क्या जिम्मेदारी मिली है, ये भी बताते हैं। हरीश चंद्र कांडपाल से अधिशासी निदेशक उत्तराखंड ग्रामीण विकास संस्थान वापस लिया गया है। उदय राज सिंह को अपर सचिव पेयजल बनाया गया। गिरधारी सिंह रावत निदेशक खेल बनाए गए हैं। रंजना से प्रबंध निदेशक तराई बीज विकास निगम वापस लिया गया। रोहित मीणा को मुख्य कार्यपालक अधिकारी उत्तराखंड खादी ग्राम उद्योग बोर्ड बनाया गया है। आरडी पालीवाल को अधिशासी निदेशक उत्तराखंड ग्रामीण विकास संस्थान बनाया गया है। विनोद गिरी गोस्वामी से निदेशक प्रशासन और मॉनिटरिंग पंतनगर कृषि विश्वविद्यालय संबंधी जिम्मेदारी वापस ले ली गई।

इसी तरह जीवन सिंह से संभागीय खाद्य नियंत्रक कुमाऊं संभाग वापस लिया गया। अब वो प्रबंध निदेशक तराई बीज विकास निगम बनाए गए हैं। केके मिश्रा को अपर जिलाधिकारी देहरादून और मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्मार्ट सिटी देहरादून बनाया गया है। अशोक कुमार पांडे को अपर जिलाधिकारी नैनीताल बनाया गया है। अभिषेक त्रिपाठी को अपर स्थानिक आयुक्त उत्तराखंड, नई दिल्ली की जिम्मेदारी मिली है। अनुराग आर्य को डिप्टी कलेक्टर रुद्रप्रयाग बनाया गया। गिरीश चंद गुणवंत को नगर आयुक्त नगर निगम ऋषिकेश व सचिव सेवा का अधिकार आयोग बनाया गया है। जगदीश लाल से सचिव सेवा का अधिकार आयोग का पद हटाया गया। हरवीर सिंह को संभागीय खाद्य नियंत्रक कुमाऊं संभाग की जिम्मेदारी मिली है। रजा अब्बास को उप सचिव सूचना आयोग का अतिरिक्त कार्यभार मिला है। पंकज कुमार उपाध्याय को सचिव जिला विकास प्राधिकरण नैनीताल का अतिरिक्त प्रभार मिला है। इसी तरह दयानंद सरस्वती को उप कुंभ मेला अधिकारी हरिद्वार का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close