धर्म-कर्मराशिफल

*आज आप का राशिफल एवं प्रेरक प्रसंग- अज्ञानता और लोभ का परिणाम*

ज्योतिषाचार्य पंकज पैन्यूली
राशिफल 16सितम्बर 2021

‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍मेष राशि-यदि आप नौकरी व्यवसाय वाले हैं, तो आज के दिन आपको  उन्नतिकारक अच्छे और सुनहरे अवसर मिलने वाले हैं। आप का रुझान मकान,जमीन, वाहन आदि खरीदने  की ओर भी रह सकता है। यदि आप सामाजिक क्षेत्र से जुड़े व्यक्ति हैं, तो आज आपको सामाजिक प्रतिष्ठा भी मिल सकती है।।                     वृष राशि-आज आपके कामों में कुछ व्यवधान तो आ सकता है, लेकिन आप तत्परता के साथ  काम में जुटे रहेंगे। आपके आय के साधनों में वृद्धि होने का भी योग है। आप यदि व्यख्याता या वाचन आदि के कार्य से जुड़े हैं, तो आज आपको प्रगतिकारक अच्छे अवसर मिल सकते हैं। आज आप किसी नए काम की शुरुवात भी कर सकते हैं।।                                                      मिथुन राशि-आज आपको कोई भी नया काम हाथ में नही लेना चाहिए। यदि आप कहीं निवेश करना चाहते हैं, तो आज रुक जाना उचित रहेगा। यदि आप पहले से नेत्र विकार से पीड़ित हैं, तो आज नेत्र विकार के कारण आप पीड़ित रह सकते हैं। आपका  मन आज अशान्त
रह सकता है।                                                            कर्क राशि-आज आप जीवन साथी को कोई उपहार भेंट कर सकते हैं। यदि आपका जीवन साथी से किसी प्रकार से मनमुटाव चल रहा है, तो आज आपका जीवन साथी के प्रति सदभाव जागृत होगा। नौकरी,व्यवसाय वालों के दिन अनुकूल रहेगा। आपका मनोबल भी आज काफी अच्छा रहा सकता है।                                  सिंह राशि-यदि आप किसी कार्य को लेकर संघर्षरत हैं, तो आज उससे बाहर निकलने  के लिए आप बहुत ही सकारात्मक प्रयास करने वाले हैं। यदि आप किसी विवाद में उलझे हैं,तो उससे भी आज आप काफी हद तक निजात पाने वाले हैं।
कन्या राशि-आज आपकी तर्क शक्ति बहुत अच्छी रहने वाली है। यदि आप अधिवक्ता या रिपोर्टर आदि कार्य से जुड़े हैं, तो आज आपकी प्रतिभा निखर कर आने वाली है। उच्च शिक्षा के संबंध में भी आप विचार कर सकते हैं।                                                                        तुला राशि-आज आप घर में कोई पारिवारिक आयोजन कर सकते हैं। आप मन पसन्द वाहन खरीदने का मन भी बना सकते हैं। माता से आपको खुशी मिल सकती है। यदि आपका कोई जमीन,मकान संबंधी विवाद चल रहा ह,तो उससे निजात मिल सकती है।
वृश्चिक राशि- आज आपको किसी प्रकार का उपहार या,पारितोष मिल सकता है। आपको अधीनस्थ कर्मचारियों से भरपूर सहयोग मिलेगा। आप किसी सार्थक  भ्रमण पर भी जा सकते हैं।                        धनु राशि-आज आपके द्वारा किए गये प्रयास व्यर्थ जा सकते हैं। हालांकि आप काम के प्रति पूरी तरह समर्पित रहेंगे। यदि आप नौकरी से वंचित हैं,तो आज आपको अच्छे संकेत प्राप्त हो सकते हैं। अपव्यय की भी संभावना है।
मकर राशि-आज का दिन आपके लिए काफी अच्छा है, आप सकारात्मक ऊर्जा से लबरेज रहेंगे। आपके रुके हुए कार्य आज पूर्ण हो सकते हैं। यदि आप नौकरी वर्ग से हैं, तो आज आपकी मासिक वेतन में वृद्धि हो सकती है।
 कुम्भ राशि-आज आपको बहुत ही संयम में रहने की आवश्कता है। किसी प्रतिद्वन्दी व्यक्ति के साथ वाद-विवाद की संभावना बन सकती है। आंशिक शारीरिक  कष्ट होने की भी संभावना है। यदि आप किसी रोग से पीड़ित हैं, तो सर्जरी आदि का विचार आज त्याग दें।
  मीन राशि-आज आपको कर्म क्षेत्र में किसी न किसी प्रकार से प्रसन्ता मिलने वाली है। किसी बड़े व्यक्ति या अधिकारी  का सहयोग भी आपको मिल सकता है। यदि आप नौकरी की तलाश में हैं, तो किसी परिचित का सहयोग लें आपका काम अवश्य हो जायेगा। बड़े भाई से भी आज आपको संतुष्टि या किसी प्रकार का सहयोग मिल सकता है।

#आपका दिन शुभ हो!जय श्री कृष्णा#

1️⃣6️⃣❗0️⃣9️⃣❗2️⃣0️⃣2️⃣1️⃣

*⚜️ आज का प्रेरक प्रसंग ⚜️*

*!! अज्ञानता और लोभ का परिणाम !!*
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

एक कुम्हार को मिट्टी खोदते हुए अचानक एक हीरा मिल गया। उसने उसे अपने गधे के गले में बांध दिया। एक दिन एक बनिए की नजर गधे के गले में बंधे उस हीरे पर पड़ गई। उसने कुम्हार से उसका मूल्य पूछा। कुम्हार ने कहा, सवा सेर गुड़। बनिए ने कुम्हार को सवा सेर गुड़ देकर वह हीरा खरीद लिया। बनिए ने भी उस हीरे को एक चमकीला पत्थर समझा था लेकिन अपनी तराजू की शोभा बढ़ाने के लिए उसकी डंडी से बाँध दिया।

एक दिन एक जौहरी की नजर बनिए के उस तराजू पर पड़ गई। उसने बनिए से उसका दाम पूछा। बनिए ने कहा, पांच रुपए। जौहरी कंजूस व लालची था। हीरे का मूल्य केवल पांच रुपए सुनकर समझ गया कि बनिया इस कीमती हीरे को एक साधारण पत्थर का टुकड़ा समझ रहा है। वह उससे भाव-ताव करने लगा-पांच नहीं, चार रुपए ले लो। बनिये ने मना कर दिया क्योंकि उसने चार रुपए का सवा सेर गुड़ देकर खरीदा था। जौहरी ने सोचा कि इतनी जल्दी भी क्या है ? कल आकर फिर कहूँगा, यदि नहीं मानेगा तो पांच रुपए देकर खरीद लूँगा।

संयोग से दो घंटे बाद एक दूसरा जौहरी कुछ जरूरी सामान खरीदने उसी बनिए की दुकान पर आया। तराजू पर बंधे हीरे को देखकर वह चौंक गया। उसने सामान खरीदने के बजाए उस चमकीले पत्थर का दाम पूछ लिया। बनिए के मुख से पांच रुपए सुनते ही उसने झट जेब से निकालकर उसे पांच रुपये थमाए और हीरा लेकर खुशी-खुशी चल पड़ा। दूसरे दिन वह पहले वाला जौहरी बनिए के पास आया। पांच रुपए थमाते हुए बोला- लाओ भाई दो वह पत्थर।

बनिया बोला- वह तो कल ही एक दूसरा आदमी पांच रुपए में ले गया। यह सुनकर जौहरी ठगा सा महसूस करने लगा। अपना गम कम करने के लिए बनिए से बोला- “अरे मूर्ख ! वह साधारण पत्थर नहीं, एक लाख रुपए कीमत का हीरा था।”

बनिया बोला, “मुझसे बड़े मूर्ख तो तुम हो। मेरी दृष्टि में तो वह साधारण पत्थर का टुकड़ा था, जिसकी कीमत मैंने चार रुपए मूल्य के सवा सेर गुड़ देकर चुकाई थी। पर तुम जानते हुए भी एक लाख की कीमत का वह पत्थर, पांच रुपए में भी नहीं खरीद सके।”

*शिक्षा:-*
मित्रों, हमारे साथ भी अक्सर ऐसा होता है हमें हीरे रूपी सच्चे शुभ् चिन्तक मिलते हैं लेकिन अज्ञानतावश पहचान नहीं कर पाते और उसकी उपेक्षा कर बैठते हैं, जैसे इस प्रसंग में कुम्हार और बनिए ने की। और कभी पहचान भी लेते हैं अपने अहंकार के चलते तुरन्त स्वीकार नहीं कर पाते और परिणाम पहले जौहरी की तरह हो जाता है और पश्चाताप के अतिरिक्त कुछ हासिल नहीं हो पाता..!!

*सदैव प्रसन्न रहिये।*
*जो प्राप्त है, पर्याप्त है।।*
✍️✍️✍️✍️✍️✍️✍️✍️✍️✍️✍️

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close