शहर में खास

*ग्राफिक एरा में 9/11 आतंकवादी हमले की फोटो प्रदर्शनी में पहुँचे महाराज*

देहरादून 14 सितंबर। कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज आज ग्राफिक एरा हिल यूनिवर्सिटी में 9/11 आतंकवादी हमले के दौरान खींची हुई फोटो प्रदर्शनी देखने पहुंचे।

अंतर्राष्ट्रीय खेल फोटोजर्नलिस्ट कमल शर्मा की खींची इन तस्वीरों की सराहना करते हुए प्रदेश के पर्यटन, लोक निर्माण, सिंचाई, धर्म एवं संस्कृति मंत्री श्री सतपाल महाराज ने कहा कि एक फोटोग्राफर के तौर पर अपनी जान की परवाह न करते हुए इन्होंने ग्राउंड जीरो पर मौजूद रहकर उस दर्दनाक आंतकवादी हादसे को अपने लेंस में कैद किया।
उस भयानक हादसे में डरे, भागते हुए और फोन पर अपने परिजनों से बातचीत करते हुए लोगों की तस्वीरें हमें खौफनाक मंजर की याद दिलाती है।
उन्होंने यह भी कहा कि अमेरिका जैसा देश कभी कल्पना भी नही कर सकता था कि उनके देश पर कोई आतंकवादी हमला हो सकता है।
श्री महाराज ने कहा कि इस हादसे से सबक लेते हुए दुनिया के देश आतंकवाद के विरुद्ध एकजुट खड़े हुए, कमल शर्मा की खींची हुई यह तस्वीरें एक संग्रहालय की तरह है, यह तस्वीरें आतंकवाद के क्रूरतम और भयावह परिणामों के प्रति लोगों को जागरूक करती है।
ग्राफिक एरा मैनेजमेंट की वरिष्ठ पदाधिकारी श्रीमती राखी घनशाला ने स्मृति चिन्ह देकर कैबिनेट मंत्री श्री सतपाल महाराज का स्वागत किया साथ ही ग्राफिक एरा डीम्ड विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर डॉ आरके शर्मा ने विश्वविद्यालय के फैशन विभाग की उत्तराखंडी कैप भी भेंट की
डायरेक्टर इंफ्रास्ट्रक्चर ग्राफिक एरा प्रोफेसर सुभाष गुप्ता ने विश्वविद्यालय की उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुए कहा ग्राफिक एरा डीम्ड यूनिवर्सिटी ने दूसरी बार देश के टॉप 100 यूनिवर्सिटीज में अपनी जगह बनाई है।
इस सात दिवसीय फोटो प्रदर्शनी का आयोजन ग्राफिक एरा हिल यूनिवर्सिटी और अंग्रेजी दैनिक गढ़वाल पोस्ट मिलकर कर रहे हैं। कार्यक्रम का संचालन जनसंचार विभाग के विभागाध्यक्ष विक्रम रौतेला ने किया।
इस मौके पर ग्राफिक एरा हिल यूनिवर्सिटी की प्रो वीसी डॉ ज्योति छाबड़ा, गढ़वाल पोस्ट के वरिष्ठ पत्रकार अमर प्रताप सिंह, रजिस्टार कैप्टन हिमांशु धूलिया आदि मौजूद रहे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close