देहरादून

*उत्तराखंड-मसूरी में कैंपटी फॉल जाने वाले ये खबर जरूर पढ़ें- भारी भीड़ देखकर प्रशासन ने बनाया ये कड़ा नियम*

कोरोना केस कम होते ही बाहरी राज्यों से लोग पहाड़ों की ओर रुख कर रहे हैं और हुड़दंग मचा रहे हैं। पर्यटक स्थलों पर बेहिसाब भीड़ है और पर्यटक कोरोना के नियमों की धड़ल्ले से धज्जियां उड़ा रहे हैं। नैनीताल से लेकर मसूरी तक यही हाल है। बाजारों में बेहिसाब भीड़ है और लोग बिना मास्क लगाए, बिना सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किए खुलेआम घूम रहे हैं और तीसरी लहर को निमंत्रण दे रहे हैं। वहीं मसूरी में पर्यटकों द्वारा प्रोटोकॉल का पालन न करने के बाद प्रशासन सख्त हो चला है और अब प्रशासन ने कैंपटी फॉल में एक बार से 50 से अधिक पर्यटकों के आने पर प्रतिबंध लगा दिया है। जी हां,अब कैंपटी फॉल में एक बार में 50 से अधिक पर्यटक नहीं आ सकते और उसी के साथ पर्यटक केवल आधा घंटा ही झरने में नहा सकेंगे। कैंपटी फॉल में व्यवस्था के लिए चेक पोस्ट बनाने के निर्देश दे दिए हैं।
मसूरी में नियमों का पालन नहीं किए जाने पर जिला प्रशासन सख्त रवैया अपना रहा है और अब यहां पर प्रतिबंधों के साथ ही पर्यटकों को आने की अनुमति दी जाएगी। एक समय में 50 से अधिक पर्यटक फॉल में नहीं आएंगे और पर्यटक झरने में केवल आधा घंटा ही रुक सकेंगे और उनके वापस जाने के बाद एक बार फिर से 50 अन्य पर्यटकों को आने की अनुमति होगी। टिहरी जिले की जिलाधिकारी इवा श्रीवास्तव ने मसूरी में कोरोना प्रोटोकॉल्स का पालन करवाने के सख्त आदेश भी दे दिए हैं। उन्होंने कहा है कि फॉल में एक बार में 50 पर्यटक ही आ सकेंगे और पर्यटक प्रोटोकॉल को ध्यान में रखकर फॉल का आनंद उठाएंगे। उन्होंने बताया की कैंपटी फॉल में पर्यटकों की भीड़ काफी अधिक बढ़ गई है और यहां पर लोग नियमों की धज्जियां उड़ा रहे हैं जिसके बाद अब प्रशासन पर्यटकों के साथ सख्ती बरत रहा है।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

error: Content is protected !!
Close