ऋषिकेश

*कूलर,पंखो कि दुकानों को खोलने हेतु अखिलेश मित्तल ने विधानसभा अध्यक्ष को ज्ञापन सौंपा*

"हम चाह कर भी कोविड के मरीजों को मदद नहीं कर पा रहे हैं क्योंकि गर्मी लगातार बढ़ रही है। सभी को इस वक्त कूलर और पंखे की जरूरत है-अखिलेश मितल।

कोविड-19 के संक्रमण की बढ़ती संख्या को देखते हुए उत्तराखंड में कोरोना कर्फ्यू लगाया गया है। इसमें सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंस के अनुसार कुछ दुकानों को खोलने की अनुमति है। जरूरत के सामान खरीदने के लिए समय निर्धारित किया गया है उसमें आप अपनी सुविधा अनुसार खरीदारी कर सकते हैं।
इन दिनों गर्मी का मौसम चल रहा है बीमारों, तीमारदारों के लिए कूलर, पंखे की बेहद आवश्यकता होती है। ऋषिकेश में सरकार की गाइडलाइंस के अनुसार बिजली के उपकरण बेचने वाले दुकानदारों की दुकान खोलने की इजाजत नहीं है। जिससे कूलर, पंखा ,एसी बेचने वाले दुकानदारों में मायूसी छाई हुई है। कारण कि गर्मी के सीजन में ही वह अपने उपकरण बेचते हैं, इस समय कोरोना काल में लोगों को पंखे कूलर एसी की सख्त आवश्यकता होती है। इसी परिप्रेक्ष्य में ऋषिकेश इलेक्ट्रिकल्स ट्रेडर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष, एवं नगर उद्योग व्यापार महासंघ ऋषिकेश के महामंत्री अखिलेश मित्तल द्वारा उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष के माध्यम से इस आशय

का एक पत्र सौंपते हुए लिखा है कि केंद्र सरकार की ओर से हम इलेक्ट्रिकल्स वालों के समान को अति आवश्यक सामग्री के रूप में घोषणा की गई थी। इसके बाद हमने पास बनवा के दुकानें खोली थी, क्योंकि पंखे और कूलर इस समय काफी आवश्यक है हमारे पास दिन-रात लोगों के फोन आ रहे हैं पंखे और कूलर के लिए जिसमें अधिकतर कोविड-19 के मरीज है। परंतु इस बार अति आवश्यक सामग्री को प्रदेश सरकार द्वारा स्थान नहीं दिया गया इस विषय में मैंने शासन प्रशासन से भी बात की परंतु अभी तक कोई उचित जवाब नहीं आया है। हम चाह कर भी कोविड के मरीजों को मदद नहीं कर पा रहे हैं क्योंकि गर्मी लगातार बढ़ रही है। सभी को इस वक्त कूलर और पंखे की जरूरत है हमारा आपसे आग्रह है कि इसे विषय में अति शीघ्र संज्ञान लेकर आमजन को इस सुविधा का लाभ दिलाएं।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close