Breaking News

*उत्तराखंड- कोरोनावायरस का कहर, सोमवार को 5403 मिले संक्रांति वहीं 128की मृत्यु व 3344 लोग ठीक हुए हैं*

उत्तराखंड सोमवार को कोरोनावायरस 128 लोगों की मौत की खबर से उत्तराखंड में हड़कंप मच गया। आपको बता दें कि सोमवार को 5403 कोरोनावायरस प्रदेश में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आज गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी से फोन पर बात करते हुए प्रदेश को ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री रुपाणी ने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के आग्रह पर उत्तराखंड को हर संभव मदद दिलाने का भरोसा दिया।

आज आपको बता दें कि उत्तराखंड के अल्मोड़ा में 1 बागेश्वर में 21 चमोली में 61 चंपावत में 4 देहरादून में 1496 हरिद्वार में 207 नैनीताल में 748 पौड़ी गढ़वाल में 149 पिथौरागढ़ में 03 रुद्रप्रयाग में 36 टिहरी गढ़वाल में 01 उधम सिंह नगर में 555 उत्तरकाशी में 62 लोग ठीक हूए है।
वही एम्स ऋषिकेश में 14 लोगों की मौत हुई है। अरिहंत हॉस्पिटल देहरादून में 2 हिमालय हॉस्पिटल देहरादून में 11, कैलाश हॉस्पिटल देहरादून में 11 कालिंदी हॉस्पिटल विकास नगर में 01 लहमान हॉस्पिटल देहरादून में 2 एमएच देहरादून हॉस्पिटल में 10 ओएनजीसी हॉस्पिटल देहरादून में 02 वेल्मेद हॉस्पिटल देहरादून में 09 श्री महंत इंद्रेश हॉस्पिटल देहरादून में 07 विनय विशाल हेल्थ केयर देहरादून में08 सुभारती हॉस्पिटल देहरादून में 17 आरोग्यधाम हॉस्पिटल हरिद्वार में 03 बृजलाल हॉस्पिटल नैनीताल में 02 सुशीला तिवारी गवर्नमेंट हॉस्पिटल हल्द्वानी में 17 विवेकानंद हॉस्पिटल नैनीताल में 25 एचएनबी बेस हॉस्पिटल श्रीनगर में 04 डीएचपी पिथौरागढ़ अस्पताल में 01 डी एच रुद्रप्रयाग में 02 लोगों की मौत हुई है। कुल मिलाकर 128 लोगों की मृत्यु हुई है।
जिलेवार आंकड़े अल्मोड़ा में 167 बागेश्वर में 105 चमोली में 169 चंपावत में 215 देहरादून में 2026 हरिद्वार में 676 नैनीताल में 458 पौड़ी गढ़वाल में 139 पिथौरागढ़ में 150 रुद्रप्रयाग में 35 टिहरी गढ़वाल में 415 उधम सिंह नगर में 656 और उत्तरकाशी में 192 यह सब मिलाकर टोटल 5403 टोटल पॉजिटिव केस पिछले 24 घंटे में आए हैं।
वहीं3344 लोग ठीक हुए हैं।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close