Breaking Newsऋषिकेश

*ऋषिकेश- देवदूत बनकर पहुंची ऋषिकेश पुलिस,कोरोना पॉजिटिव वरिष्ठ नागरिक सहित पत्नी, बेटी को एम्स में भर्ती कराया*

ऋषिकेश पुलिस को इस सराहनीय कार्य के लिए लोगों ने मुक्त कंठ से सराहना की।

ऋषिकेश दिनांक 01 मई 2021*
हेल्पलाइन नंबर पर कॉलर द्वारा तीसरी बार सहायता मांगने पर ऋषिकेश के चीता पुलिस कर्मचारी गणों द्वारा व्यवस्था न होने पर स्वयं पी.पी.ई. किट पहनकर करोना पीड़ित को कराया गया एम्स में भर्ती*

कोविड-19 संक्रमण के दौरान आम जनमानस की सहायता हेतु कोतवाली ऋषिकेश पुलिस द्वारा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है।
जिस पर पुलिस अधीक्षक देहात व क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश द्वारा भी हेल्पलाइन में नियुक्त कर्मचारी गणों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए जा रहे हैं।
उक्त हेल्पलाइन नंबर पर दिनांक 28 अप्रैल को उपरोक्त हेल्पलाइन नंबर पर एक कॉल प्राप्त हुई। जिसमें काँलर द्वारा परिवार के तीन सदस्यों जिनमें वह स्वंय, उनकी पत्नी (वरिष्ठ नागरिक) एंव एक बेटी है, सभी गम्भीर रुप से बीमार है। घर पर कोविड-19 टेस्ट करवाने की आवश्यकता है। दिनांक 28.04.2021 को काँलर की मदद करते हुए प्रभारी निरीक्षक, द्वारा तत्काल् राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश से सम्पर्क कर कॉलर के तीनो परिवारजन का घर पर कोविड टेस्ट करवाया गया जिसमें उक्त तीनो कोरोना पॉजिटिव पाये गये।

2- *दिनांक 29.04.2021 को पुनः कॉलर द्वारा पुनः कॉल कर बताया गया की उनकी बेटी को सांस लेने में परेशानी हो रही है। इसलिए आक्सीजन सिलेण्डर एंव आक्सीजन देने के लिए प्रशिक्षित व्यक्ति की आवश्यकता है।जिसपर पुनः प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश द्वारा कोतवाली ऋषिकेश के हेल्पलाइन में नियुक्त पुलिस टीम को तत्काल कार्रवाई करते हुए ऑक्सीजन सिलेण्डर एंव प्रशिक्षित कर्मी की व्यवस्था करने हेतु निर्देशित किया गया। जिस पर हेल्पलाइन की टीम द्वारा ऋषिकेश क्षेत्रान्तर्गत समस्त आक्सीजन सप्लायर के साथ वार्ता कर एक प्राइवेट ऑक्सीजन एजेंसी के कर्मचारी को लेकर तत्काल उपरोक्त कॉलर के आवास पर जाकर ऑक्सीजन लगवाई गई। जिससे ऑक्सीजन की आवश्यकता वाले मरीज को राहत प्राप्त हुई है।

3- *दिनांक 30 अप्रैल 2021 को पुनः उपरोक्त कॉलर द्वारा सूचना दी गई कि अब ऑक्सीजन से भी राहत नहीं मिल रही है, तबीयत अधिक बिगड़ गई है एवं करोना पॉजिटिव होने के कारण आस-पड़ोस से कोई मदद नहीं कर पा रहा है।
उक्त सूचना पर प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश द्वारा हेल्पलाइन में नियुक्त कर्मचारी गणों एवं चीता मोबाइल पर नियुक्त कर्मचारी गणों को
*उपरोक्त बुजुर्ग व उनके परिवार की तत्काल सहायता हेतु कोविड-19 से सुरक्षा के मानकों को पूरा करते हुए पीपीई किट पहनकर बुजुर्ग की सहायता करने हेतु आवश्यक निर्देश दिए गए।*

*जिसपर चीता पुलिस पर नियुक्त कर्मचारी गण तत्काल बुजुर्ग के निवास पर पहुंचे। जहां आस- पड़ोस के बहुत लोग मौजूद थे। मगर कोविड-19 के डर से कोई भी सहायता करने हेतु उनके घर नहीं जा रहा था। एंबुलेंस में स्ट्रेचर की सुविधा न होने पर चीता पुलिस में नियुक्त कर्मचारी गणों द्वारा अपने स्वास्थ्य की परवाह ना करते हुए कोविड-19 से सुरक्षा के दृष्टिगत पी.पी.ई. किट पहनकर कोविड-19 से ग्रसित बुजुर्ग को आवास के प्रथम तल से गोद में उठा कर एंबुलेंस तक लाया गया एवं एम्स अस्पताल में इलाज हेतु भर्ती कराया गया। जहां तत्काल उनको चिकित्सीय सुविधा प्राप्त हुई वर्तमान समय में उनका स्वास्थ्य सही है।*

*नाम पता बुजुर्ग-
****************
*गणेश दास सप्रा पुत्र श्री धारीवाल सप्रा निवासी 22 गणेश विहार लेन नंबर 6, गंगा नगर ऋषिकेश*
उम्र 76 वर्ष.
ऋषिकेश पुलिस एवं चीता पुलिस मे नियुक्त कर्मचारियों द्वारा अपनी जान की परवाह ना करते हुए, की गई त्वरित कार्यवाही व बुजुर्ग को समय से चिकित्सीय सुविधा मिलने पर उनके प्राणों की रक्षा हुई है। जिसपर स्थानीय लोगों एवं जनप्रतिनिधि द्वारा चीता पुलिस के इस कार्य की सराहना करते हुए ऋषिकेश पुलिस को धन्यवाद अदा किया है।

*नाम चीता पुलिस कर्मचारी गण*
***************************
1- कांस्टेबल योगेंद्र कुमार
2- कांस्टेबल संदीप छाबड़ी।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close