Breaking Newsक्राइम

*टिहरी गढ़वाल- जंगल मे शिकार करने गए चार युवकों की मौत के रहस्य से पर्दा उठा-पढें पूरी कहानी*


टिहरी गढ़वाल- जंगल में शिकार करने गए घनसाली के दुरस्थ गांव कुंडी के चार युवकों की मौत का खुलासा हो गया है।

साथी की गोली लगने से मौत से घबराकर तीन युवकों ने जहर खा लिया।

दो युवकों को जहर इसलिए नहीं दिया गया कि वह घर के इकलौते थे और उन्हें घटना की सूचना गांव वालों को देने की जिम्मेदारी दी गई थी।

जबकि जंगल में जहर का इंतजाम लापता चल रहे युवक ने किया।

राजस्व पुलिस के अनुसार ग्रामीणों ने पूछताछ में बताया कि ग्राम कुंडी, बिनायखाल, पट्टी थाती कठुड, तहसील बालगंगा (राजस्व क्षेत्र) घनसाली के अर्जुन सिंह पंवार (23) पुत्र नयन सिंह पवार, सोबन सिंह पवार (24) पुत्र केसर सिंह, पंकज पंवार (23) पुत्र अब्बल सिंह पंवार, संतोष सिंह पंवार (23) पुत्र दिलीप सिंह, राहुल (20) पंवार पुत्र मोहन सिह पंवार व सुमित पंवार (18) पुत्र कुंदन सिह पंवार और रज्जी पुत्र प्रताप सिह नेगी निवासी ग्राम खवाडा शनिवार रात को शिकार करने गांव के ऊपर जंगल में गए थे।

इस दौरान संतोष को गोली लगने के कारण उसकी मौत हो गई। साथ गए अन्य युवक उसे जंगल से उठाकर गांव से करीब दो किमी दूर अंदर जंगल में स्थित गांव की छानी में लाए।

इसके बाद उन्होंने सलाह की कि उनसे बडा अपराध हो गया है, इसलिए अब जीने का कोई लाभ नहीं है।

इन यवकों में से एक रज्जी, जो अभी भी लापता ने, वहां विषाक्त पदार्थ का इन्तजाम किया। अर्जुन सिह, सोबन सिह और पंकज ने विषाक्त पदार्थ खा लिया।

राहुल और सुमित को विषाक्त पदार्थ इसलिए नहीं खाने दिया गया कि उनकी उम्र कम होने के साथ-साथ वे घर में इकलोते थे। साथ ही उन्हे गांव में जाकर सूचना गांव वालों को देने की जिम्मेदारी दी गई।

राहुल और सुमित ने घटना की जानकारी गांव में सुबह करीब 4.30 बजे दी। इस पर गांव वाले मौके पर पहुंचे। संतोष के साथ अर्जुन सिह व पंकज की घटना स्थल पर ही मृत्यु हो चुकी थी। सोबन सिह ने बेलेश्वर चिकित्सालय में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

घटना कि प्रकृति गंभीर होने के कारण राजस्व पुलिस के साथ ही पुलिस क्षेत्राधिकारी टिहरी और थानाध्यक्ष घनसाली ने मौके पर जाकर घटना स्थल का मुआयना किया गया।

संतोष के शव का राजस्व पुलिस द्वारा जबकि अर्जुन सिह, पंकज व सोबन सिह के शव का पंचनामा घनसाली पुलिस द्वारा कर शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। राजस्व पुलिस द्वारा मुकदमा पंजीकृत कर प्रकरण की जांच शुरू कर दी गई है।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close