ऋषिकेश

*पूर्वांचल विकास मंच द्वारा क्षेत्रीय विधायक का विरोधस्वरूप पुतला जलाया*

देवभूमि न्यूज़ ऋषिकेश।
आज पूर्वांचल विकास मंच द्वारा चन्द्रेश्वर नगर में क्षेत्रीय विधायक प्रेम चंद अग्रवाल का पुतला दहन किया गया। इस पुतला दहन को करते हुए क्षेत्रीय विधायक, प्रदेश के मुख्यमंत्री और प्रदेश संघठन भाजपा के मुर्दाबाद के नारों को लगाया जा रहा था

पूर्वांचल की अनदेखी और उनके तिरस्कार के इस रवैय्ये को कदाचित कार्यकर्ता बर्दाश्त नही करेंगे।इस विषय पर बोलते हुए सुरेश राजभर ने कहा कि क्षेत्रीय विधायक द्वारा पूर्व से ही पूर्वांचल की उपेक्षा की जाती रही है चाहे क्षेत्र में रेल का विषय हो या पूर्वांचल की आध्यात्मिक आस्था छठ पर्व हो, या फिर राजनीतिक क्षेत्र में पूर्वांचल की भागीदारी का अवसर हो तो सदैव विधायक द्वारा कार्यकर्ताओ का दोहन ही किया गया। ऐसे तीन बार के विधायक का क्या करना जो क्षेत्र की 45 प्रतिशत आबादी को सदैव नक्कारता रहा । बारम्बार अनेकों प्रकरण ऐसे हुए की जब भी इस विधायक के पास पूर्वांचल समाज गया तो इसने सदैव कार्यो हेतु केवल आश्वासन दिया काम नही किया। आज इन सब समस्याओं के साथ पूर्वांचल के एक क्षेत्र अलग थलग पड़ गया। बाढ़ के दौरान तटबंध विगत 15 सालों से यह विधायक ना लगा पाये, जबकि यह जानते है कि यहां बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र है। आज एक व्यक्ति को यदि राजनीतिक क्षेत्र में मनोनयन का विषय आया तो भी इस विधायक द्वारा एक बार फिर पूर्वांचल की अनदेखी की गई और अपमानित किया। इस के लिए जितना दोषी यह विधायक है उतना दोषी प्रदेश की सरकार भी है। इस विषय पर बोलते हुए कहा कि यदि इस प्रकार ही हमारे समाज ने अपमानित होना है तो इस विधायक के खिलाफ सम्पूर्ण पूर्वांचल समाज धरने और प्रदर्शन करेगा। इस पुतला दहन में गौरखनाथ राजभर, राजू कुम्हार, वीर बहादुर, पवन कुमार, विशाल, सूरज कुमार, मानू, अनीश मास्टर, छोटू ठाकुर, आकाश कुमार, सिद्धार्थ राजभर, राजकुमार, तूफानी साहनी, कीमतलाल, अमरजीत, प्यारे राजभर, उमेश, अमन राजभर, विद्यावती देवी, रिंकू देवी, बासमती देवी, लाहासि देवी, फूलमती , आशा देवी, निर्मला देवी, चांद कली, सरिता देवी उपस्थित रहे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

4 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close