Breaking News

*विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल एवं दुर्गा वाहिनी ने डोईवाला चौक पर मनीषा और अन्य लड़कियों के साथ हुए दुष्कर्म के आरोपियों का पुतला दहन किया*

देवभूमि जेकेन्यूज, ऋषिकेश।
आज विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल एवं दुर्गा वाहिनी द्वारा डोईवाला चौक पर मनीषा और अन्य लड़कियों के साथ हुए दुष्कर्म के आरोपियों का पुतला दहन किया गया जिसमें डोईवाला नगर अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि आए दिन हो रहे महिलाओं के साथ यौन उत्पीड़न बलात्कार जैसी घटनाओं ने भारत की महिलाओं में खौफ भर दिया है जिससे भारत की बेटी स्वयं असुरक्षित महसूस कर रही है जिस और भारत विश्व गुरु बनने की ओर आकर्षित है वहीं दूसरी और ऐसी ऐसी घटना भारतीय कानून और महिला सुरक्षा पर एक बड़ा सवाल है वर्तमान में हुए *हाथरस में एक युवती के साथ गैंगरेप से पूरे देश की जनता में आक्रोश है वही इतनी बड़ी घटना के बाद *बालमपुर* *आजमगढ़* व *बुलंदशहर* तथा *आरा* *राजस्थान* में बच्चियों का बलात्कार कर जान से मारने जैसी अपराधी घटना वास्तव में यह सोचने पर मजबूर कर देती है कि ऐसे अपराधिक मानसिकता वाले लोगों में ना तो देश के प्रति सम्मान है और ना ही कानून को लेकर कोई डर।

वहीं दूसरी ओर प्रखंड संयोजिका *भावना* *ठाकुर* ने महामहिम राष्ट्रपति महोदय से अपील की सभी भारतवासी की बेटियों की तरफ से यह मांग करते हैं कि सभी घटनाओं में धर्म जाति तथा वर्ग का भेदभाव ना करते हुए ऐसे अपराधियों को कठोर से कठोर दंड दिए जाने आदेश देने कि कृपा करें तथा ऐसी घटनाओं के निस्तारण हेतु *फास्ट* *ट्रैक* *कोर्ट* का गठन करने के आदेश पारित करने की कृपया करें जिससे भारत के सभी नागरिकों में भारतीय संविधान के अखंडता नारी सुरक्षा तथा भारतीय कानून के प्रति सम्मान बना रहे।

जिसमें डोईवाला नगर संयोजक अविनाश सिंह, प्रखंड संयोजक अंकित राजपूत ,प्रखंड सह संयोजक सुमित वर्मा, नगर सह संयोजक सुमित राजपूत, नगर सुरक्षा प्रमुख नितिन पवार, प्रखंड सुरक्षा प्रमुख जतिन राजपूत गोरक्षा आंदोलन समिति जिला सह संयोजक पंकज राजपूत, करण कनौजिया खंड मंत्री फूलचंद , खंड सुरक्षा प्रमुख शुभम , प्रखंड मंत्री संतोष,प्रखंड उपाध्यक्ष अभिषेक सिंह, गोपाल ,अनु राजपूत, दुर्गा वाहिनी से नगर संयोजिका शशि उनियाल , कमलेश, आदि कार्यकर्ता लोग उपस्थित थे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close