ऋषिकेशशहर में खास

*अखिल भारतीय हिंदी साहित्य परिषद उत्तराखंड के तत्वावधान में ‘लोक भाषा एवं लोक यात्रा’ विषय पर एक सफल संगोष्ठी का आयोजन*

देवभूमि जेकेन्यूज ऋषिकेश।

लोक भाषा ,लोक यात्रा पर संगोष्ठी की आख्या –
आज दिनांक 29 सितंबर 2020 अखिल भारतीय हिंदी साहित्य परिषद उत्तराखंड के तत्वावधान में ‘लोक भाषा एवं लोक यात्रा’ विषय पर एक सफल संगोष्ठी का आयोजन हुआ ।
साहित्य परिषद के प्रांतीय अध्यक्ष सुनील पाठक की अध्यक्षता एवं प्रांतीय महामंत्री शिव प्रसाद बहुगुणा के संयोजकत्व में आयोजित वेविनार गोष्ठी में भाषा विज्ञानी, लोक भाषा पर ‘उड़ान ‘नामक ऐप का निर्माण करने वाले समाजसेवी वरिष्ठ नेत्र चिकित्सक डा. राजे नेगी ने लोक भाषा पर कार्य करने एवं इसे राजकीय संरक्षण प्राप्त होने की जरूरत पर बल दिया। लखनऊ से विद्वान साहित्यकार डॉ आनंद कौस्तुभ चंदोला ने लोक भाषा पर बहुत ही प्रेरणादायक व्याख्यान प्रस्तुत किया ।उन्होंने धौलिनाग मंदिर की पौराणिक यात्रा का सजीव वर्णन किया। सेवानिवृत्त विदुषी प्रोफेसर डा. दिवा भट्ट ने लोक भाषा को जड़ों से जुड़ने की भाषा बताया।। उन्होंने कहा कि लोक भाषा की उपेक्षा करना अपनी संस्कृति की उपेक्षा करना जैसा है ।श्रीनगर से शंभू प्रसाद भट्ट ने मंदाकिनी घाटी में क्वाणिका देवी एवं नंदा देवी राजजात यात्रा का मनोरम दृश्य प्रस्तुत किया । प्रांतीय मीडिया प्रभारी नरेंद्र खुराना ने भाषा को विज्ञान एवं कला बताया तथा इसे संप्रेक्षण का महत्वपूर्ण माध्यम करार दिया ।जन कवि नरेंद्र रयाल ने गढभूमि कुमांउ नामक लोक गीत की प्रस्तुति देते हुए लोक भाषा के महत्व को रेखांकित किया ।
इस अवसर पर कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में जनकवि डॉक्टर अतुल शर्मा एवं विशिष्ट अतिथि श्रीमती अरुणा वशिष्ठ ने आशीर्वचन दिया।
कार्यक्रम अध्यक्ष डॉक्टर सुनील पाठक ने लोक भाषा एवं लोक यात्रा पर कार्य करने की जरूरत पर बल दिया उन्होंने कहा कि लोक भाषा एवं लोक यात्रा से ही लोक संस्कृति जीवित रहेगी । प्रांतीय महामंत्री श्री शिव प्रसाद बहुगुणा ने उत्तराखंड की समृद्ध लोक भाषा एवं लोक संस्कृति के ऊपर अपने विचार व्यक्त किए।
कार्यक्रम में तकनीकी सहयोग परिषद के मीडिया प्रभारी विवेकडोभाल ने प्रदान किया। ऋषिकेश नगर इकाई महामंत्री जय कुमार तिवारी, डा.धीरेन्द्र रांगड(वरिष्ठ प्रान्तीय उपाध्यक्ष) एवं मनोज गुप्ता ने कार्यक्रम के सहयोग में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
कार्यक्रम के सफल संचालन में हल्द्वानी से किरन पंत वर्तिका की सराहनीय भूमिका रही ।कार्यक्रम में वंदना के स्वर प्राची पाठक द्वारा मधुर कंठ में प्रस्तुत किए गए। इस अवसर पर परिषद की हल्द्वानी इकाई की नगर अध्यक्ष पुष्पलता जोशी पुष्पांजलि ,सौरभ पांडे, विवेक डोभाल, त्रिलोक सिंह परमार ,दीपा पांडे सहित अनेक साथियों ने प्रतिभाग किया। साथ ही परिषद की कार्यकारिणी का एक लघु विस्तार भी किया गया।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close