ऋषिकेशराजनीतिशहर में खास

*ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत 2 एसटीपी प्लांट का लोकार्पण करने पर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया*

. देवभूमि जे के न्यूज़।

ऋषिकेश 29 सितंबर।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा आज नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत राज्य में तैयार किए गए 6 सीवरेज शोधन संयंत्र (एसटीपी) प्लांट सहित गंगा संग्रहालय प्रदर्शनी का लोकार्पण किया जिसमें ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत 2 एसटीपी प्लांट का लोकार्पण भी किया गया । इस अवसर पर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का आभार व्यक्त करते हुए कहा है कि यह प्रदेश वासियों के साथ गंगा के प्रति आस्था रखने वालों के लिए बड़ी सौगात है एवं क्षेत्रवासियों को बधाई शुभकामनाएं भी दी।
करोना संक्रमित होने के कारण विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल देहरादून से ही वर्चुअल जुड़े थे । उद्घाटन होने के पश्चात विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने कहा है कि देश के पहले बहुमंजिलें टीएसपी प्लांट नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत चंद्रेश्वर नगर में 41.12 करोड रुपये की लागत से बने जो 7.50 एमएलडी क्षमता का एवं लकड़घाट में 158 करोड़ की लागत से बने क्षमता बढ़ाकर 26 एमएलडी एसटीपी प्लांट का प्रधानमंत्री जी द्वारा विधिवत लोकार्पण किया गया किया।
उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष ने खुशी जताते हुए कहा कि नमामि गंगे परियोजना से बने इन परियोजनाओं का लोकार्पण होने से मा गंगा का प्रवाह अविरल एवं निर्मल होगा।
विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल कोरोना संक्रमित होने के कारण ऋषिकेश में हुए कार्यक्रम में प्रतिभाग नहीं कर पाये परंतु कार्यक्रम मे देहरादून से वर्चुअल जुडे।
अग्रवाल ने प्रधानमंत्री मोदी जी के 30 मिनट के भाषण के दौरान किसान बिल, सर्जिकल स्टाइक, जनधन योजना, राम मंदिर निर्माण, वन रैंक वन पेंशन, जैसे कल्याणकारी योजनाओं का उल्लेख करते हुए विरोध करने वालों का मोदी जी ने तथ्यों के आधार पर सटीक शब्दों में जवाब दिया ।
ऋषिकेश के लक्कड़ घाट में हुए कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल के प्रतिनिधि के रूप में उनके ओएसडी ताजेंद्र नेगी ने प्रतिभाग किया इस अवसर पर वरिष्ठ पार्षद शिव कुमार गौतम, कविता शाह, सुमित पवार आदि लोग उपस्थित थे ।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close