ऋषिकेशशहर में खास

*उत्तराखंड को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड ऋषिकेश की सामान्य निकाय की वार्षिक बैठक संपन्न*

बैंक नित नई ऊंचाइयों को लगातार छू रहा है -एस.एस. राणा (महासचिव)

देवभूमि जेकेन्यूज ऋषिकेश।
उत्तराखंड को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड ऋषिकेश की वार्षिक सभा बैंक मुख्यालय के अध्यक्ष सी. एम. सेमवाल की अध्यक्षता में संपन्न हुई।
अध्यक्ष ने उपस्थित सदस्य गणों के स्वागत संबोधन में कहा कि सभी सदस्यों के सहयोग से बैंक प्रगति के पथ पर अग्रसर है, आगे भी आपके इसी तरह के सहयोग की अपेक्षा है, साथ ही अध्यक्ष ने अपने सभी प्रतिनिधियों को कोविड-19 महामारी के बचाव हेतु आवश्यक सावधानी बरतने का अनुरोध किया।
बैंक सचिव एसएस राणा ने बैंक के वित्तीय वर्ष 2019 के वित्तीय लेखा का विवरण सदन में रखते हुए बताया कि वर्ष 2018-19 के सापेक्ष में 2019 में बैंक में शुद्ध लाभ में 28% की वृद्धि हुई है। बैंक की जमा है रुपया 450 लाख की वृद्धि हुई, व ऋर्णों में 253.25 की वृद्धि हुई है बैंक का एनपीए 247 प्रतिशत है तथा कैश रिजर्व एसस्ट रेशु 16. 42% है।
सचिव ने बताया कि इस वर्ष कोविड-19 के कारण निस्तारण पर रोक लगाई गई है जिस कारण लाभांश वितरण नहीं किया जा सका आगामी वित्त वर्ष के लिए 683 लाख का बजट प्रस्तावित है इस वर्ष प्रस्तावित बजट ₹584.00लाख के सापेक्ष 580.00लाख वास्तविक लक्ष्य प्राप्त किया गया है बैंक के खाताधारकों को पूर्ण बैंकिंग सुविधाएं प्रदान कर रहा है।
भारतीय रिजर्व बैंक में विगत वर्षों से देश में शहरी सहकारी बैंकों के शाखा के लाइसेंस पर लोग रोक लगा रखी है जिसके लिए बैंकों को निर्देशित किया गया है कि बैंक संचालक मंडल के साथ एक बोर्ड ऑफ मैनेजमेंट का गठन किया जाना है, जिसमें प्रोफेशनल संचालकों का चयन होना है जो भारतीय रिजर्व बैंक के सीधे संपर्क या निगम निर्देशन में काम करेगा। जो बैंक बोर्ड ऑफ मैनेजमेंट का गठन कर लेगा उन्हें शाखा विस्तार की सुविधा भारतीय रिजर्व बैंक से मिल सकेगी।
सचिव ने बताया कि बैंक ने इस दिशा में आवश्यक प्रस्ताव पारित कर लिए हैं बैठक में उपाध्यक्ष विनोद संगर, संचालक के एस केंतुरा,के एस नेगी, भूपेंद्र सिंह, रमेश उनियाल, पुष्पा पुंडीर, मधुमति बिंजोला, रूपराम भट्ट ,डी एस बुटोला, बृजपाल राणा,पुरण लाल,करण सिंह बर्तवाल, पीके तिवारी, अक्षय राज, पवन सेठी, भगवती प्रसाद, जसपाल भंडारी, प्यारे लाल जुगरान आदि सभा में मुख्य रूप से उपस्थित थे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

3 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close