ऋषिकेश

संयुक्त खोखा व्यापारी कल्याण एसोसिएशन ने आज अपनी विभिन्न समस्याओं को लेकर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल को ज्ञापन सौंपा।

देवभूमि जेके न्यूज, ऋषिकेश!

ऋषिकेश 23 अगस्त। बैराज स्थित कैंप कार्यालय में आज संयुक्त खोखा व्यापारी कल्याण एसोसिएशन ने आज अपनी विभिन्न समस्याओं को लेकर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल को ज्ञापन सौंपा।एसोसिएशन के सदस्यों द्वारा ज्ञापन के माध्यम से विधानसभा अध्यक्ष से संयुक्त यात्रा बस अड्डे पर बनने वाले खोखे के एवज में खोखाधारकों से ली जाने वाली धनराशि 2 लाख 50 हजार रुपए को कम किए जाने अथवा उक्त खोखो के निर्माण पर आ रही वास्तविक लागत को खोखाधारकों से लिए जाने के संबंध में अपनी गुहार लगाई।

विधानसभा अध्यक्ष को अवगत किया गया कि देश में वैश्विक महामारी कोविड-19 के चलते लॉकडाउन लगने से पूर्व नगर निगम द्वारा बताया गया था कि संयुक्त यात्रा बस अड्डे पर विगत 30-35 वर्षों से कार्यरत सभी खोखाधारकों को वेंडिंग जोन के अंतर्गत टीन सेड के निर्मित 9*12 के खोखे बना कर दिए जाएंगे, इसके लिए प्रत्येक से ढाई लाख रुपये लिए जाएंगे जिसमें 70 हज़ार रुपए की धनराशि खोखाधारकों द्वारा जमा करवाई जाएगी एवं बाकी की धनराशि के लिए बैंक से ऋण दिलवाए जाएगा।

खोखाधारकों द्वारा अवगत किया गया कि कोरोना वायरस के चलते सभी के सामने भारी आर्थिक संकट उत्पन्न हो गया है जिसे परिवार का भरण पोषण करना भी मुश्किल हो गया है।वहीं नगर निगम के ठेकेदारों द्वारा उन्हें ₹70000 की धनराशि जमा करने का दबाव बनाया जा रहा है अन्यथा खोखे हटाए जाने की धमकी दी जा रही है। एसोसिएशन ने विधानसभा अध्यक्ष से खोखे के निर्माण में वास्तविक लागत की ही धनराशि लिए जाने के संबंध में विधानसभा अध्यक्ष से उचित कार्रवाई करने की मांग की।इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने खोखाधारकों को आश्वस्त करते हुए कहा कि वह इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई कर समस्या का समाधान निकालेंगे।

इस अवसर पर एसोसिएशन के संयोजक नंदकिशोर जाटव, उपाध्यक्ष रुकुम पोखरियाल, सचिव जीतू मुखर्जी, रंजीत सैनी, भूपेंद्र, विकास कुमार, मनोज, वर्मा यादव, दीपचंद, केशव, शिव सिंह वर्मा सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

5 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close