UNCATEGORIZED

अजब-गजब-10 करोड़ में बिकी ये झोपड़ी- देखें इसकी तस्वीर और पढ़ें पूरी कहानी!

देवभूमि जे के न्यूज़!

दुनिया में ऐसे कई आलीशान घर हैं जो अपनी खूबसूरती और गजब डिजायन के लिए फेमस हैं। ऐसे घरों की कीमत भी करोड़ों में ही होती है। जो आम लोग नहीं खरीद पाते हैं। ऐसे कई महल और बंगलों के बारे में आपने सुना होगा।

लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि एक झोपड़ी की कीमत भी करोड़ों में हो सकती है। जी हां, ये बात सच है। इंग्लैंड में साधारण सी दिखने वाली एक झोपड़ी करोड़ों में बिकी है। दरअसल, तालाब किनारे इस झोपड़ी को पहले लोग साधारण मान रहे थे। कभी किसी ने इसकी तरफ ध्यान भी नहीं दिया। लेकिन हाल ही में ये झोपड़ी 10 करोड़ में बिकी है। जिसके बाद से ये झोपड़ी चाय पर चर्चा का विषय बन गई है। बिकने के बाद से इसकी सच्चाई सबके सामने आई तो लोगों के होश उड़ गए। साधारण सी दिखने वाली इस झोपड़ी का इंटीरियर महलों जैसा है। इसके अंदर की सजावट किसी बंगले से कम नहीं है।

बताया जा रहा है कि ये झोपड़ी नहीं बल्कि तीन बेडरूम वाला अच्छा-खासा घर है। जिसे 1964 में बनाया गया था। 2016 इसके मालिक ने इसके इंटीरियर पर काम किया और फिर 10 करोड़ में इसे बेच दिया। कई सालें तक यहां पर कई सिलेब्रिटीज किराए पर भी रहे।

उस समय लोग समझते थे कि तालाब किनारे होने के कारण लोग यहां पर आते हैं लेकिन उन्हें इसकी खूबसूरती का पता नहीं था। सच्चाई पता लगने के बाद से इसकी खूबसूरत फोटोज सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। फोटोज में देखा जा सकता है कि इसका इंटीरियर किसी फाइव स्टार होटल से कम नहीं हैं।
इसके मालिक ने बताया कि इससे पहले ये झोपड़ी 3 करोड़ में बिकी थी लेकिन तब यहां पर कोई सुविधाएं नहीं थीं। इसके मालिक ने इस झोपड़ी की फोटो शेयर करते हुए कहा कि ‘अगर आप भी इसे एक छोटी सी झोपड़ी समझने की गलती कर रहे हैं तो ये आपकी सबसे बड़ी भूल होगी। इस भूल को सुधारने के लिए आपको एक बार यहां जरूर आना चाहिए और इसकी खूबसूरती देखनी चाहिए।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

40 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close