क्राइम

*100 लोगों का हत्यारा डॉ. का सनसनीखेज खुलासा: मारने के बाद मगरमच्छों को खिलाए शव*

एक डाक्टर की घिनौनी करतूत की पढ़िए पूरी कहानी!

देवभूमि जे के न्यूज़!
नई दिल्ली। गत दिवस पुलिस की अपराध शाखा की नारकोटिक्स सेल ने दुर्दांत हत्यारे डॉ. देवेंद्र शर्मा उर्फ डॉ. डेथ को बुधवार को बापरौला से गिरफ्तार किया था। बता दें कि डा. डेथ ने 11 वर्ष तक राजस्थान के जयपुर में क्लीनिक चलाया। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ और अमरोहा में दो फर्जी गैस एजेंसियों के संचालन मामले में गिरफ्तार हुआ। 10 वर्ष तक किडनी रैकेट से जुड़ा रहा। 2004 में हरियाणा के गुरुग्राम से गिरफ्तार हुआ।
वहीं अब हैवान देवेंद्र शर्मा के बारे में और चौंकानेवाली जानकारी मिली है। सीरियल किलर डॉक्टर देवेंद्र शर्मा ने पहले कबूला था कि 50 कत्ल के बाद वह मर्डर्स की गिनती भूल गया था। अब उसने माना है कि अबतक वह 100 से ज्यादा लोगों की जान ले चुका है, जिसमें से ज्यादातर को उसने यूपी की एक नहर में मौजूद मगरमच्छ का खाना बना दिया।
देवेंद्र शर्मा नाम के इस डॉक्टर को पिछले दिनों दिल्ली से पकड़ा गया है। वह किडनी केस में पिछले 16 साल से सजा काट रहा था और अब परोल पर बाहर था। 20 दिन बाद उसे वापस जेल जाना था लेकिन वह अंडरग्राउंड हो गया था। अब पकड़ेजाने के बाद उसे काले कारनामों का कच्चा चि_ा खुल रहा है।
बताते चलें कि देवेंद्र कैब ड्राइवर्स को उनकी गाडिय़ों के लिए मार देता था। दिल्ली से यूपी जाने के लिए इसके गैंग के लोग जिस टैक्सी को बुक करके उसे ही लूट लेते। पकड़ेजाने के बाद शर्मा ने बताया कि उसने ज्यादातर शवों को उत्तर प्रदेश, कासगंज के हजारा नहर में फेंक दिया। इस नहर में बड़ी संख्या में मगरमच्छ रहते हैं।
शर्मा को अब बीते बुधवार को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था। साल 1984 में देवेंद्र शर्मा ने आर्युवेदिक मेडिसिन में अपनी ग्रेजुएशन पूरी करके राजस्थान में क्लीनिक खोला। फिर 1994 में उसने गैस एजेंसी के लिए एक कंपनी में 11 लाख का निवेश किया। लेकिन कंपनी अचानक गायब हो गई। फिर नुकसान के बाद उसने 1995 में फर्जी गैस एजेंसी खोल ली।
शर्मा ने एक गैंग बनाया जो एलपीजी सिलेंडर लेकर जाते ट्रकों को लूट लेता। इसके लिए वे लोग ड्राइवर को मार देते और ट्रक को भी कहीं ठिकाने लगा देते। इस दौरान उसने गैंग के साथ मिलकर करीब 24 मर्डर किए। फिर देवेंद्र शर्मा किडनी ट्रांसप्लांट गिरोह में शामिल हो गया। उसने सात लाख प्रति ट्रांसप्लांट के हिसाब से 125 ट्रांसप्लांट करवाए। साथ ही साथ ये लोग कैब ड्राइवर्स को मारकर उनकी कैब लूट लेते। ड्राइवर की बॉडी को नहर में फेंक दिया जाता था, और कैब को यूजड कार बताकर बेच दिया जाता।
इसके बाद वह 2004 में पकड़ा गया और 16 साल जयपुर जेल में रहा। फिर अच्छे बर्ताव के लिए उसे जनवरी 2020 को 20 दिन की परोल मिली। लेकिन वह भाग गया और अंडर ग्राउंड हो गया।वह मोहन गार्डन में छिपकर रहने लगा।
वहां एख बिजनेसमैन चूना लगाने वाला था तभी पुलिस को भनक लग गई और पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया!

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

100 Comments

  1. Rare fatal diabetic – I’m not more if Set aside is only to be another inoculated deficiency communal, but I bolus it’s main as neonatal and abdominal and hemolytic as a practicable extra. casino online slots Ypushg gmslys

  2. I just want to mention I’m very new to blogging and site-building and honestly liked this web-site. Most likely I’m going to bookmark your site . You absolutely come with impressive articles and reviews. Thanks for revealing your blog.

  3. Some really wonderful articles on this site, thanks for contribution. “A man with a new idea is a crank — until the idea succeeds.” by Mark Twain.

  4. of course like your website however you have to test the spelling on several of your posts. Several of them are rife with spelling problems and I to find it very bothersome to tell the truth then again I will certainly come again again.

  5. Thank you for another wonderful article. Where else may anyone get that kind of info in such an ideal method of writing? I have a presentation next week, and I am on the look for such information.

  6. This site is mostly a stroll-through for all the information you wished about this and didn’t know who to ask. Glimpse right here, and also you’ll definitely uncover it.

  7. I simply want to mention I am beginner to blogging and site-building and honestly loved your web site. Most likely I’m going to bookmark your blog post . You amazingly come with really good articles and reviews. Many thanks for sharing with us your web page.

  8. Thank you for the sensible critique. Me & my neighbor were just preparing to do some research on this. We got a grab a book from our area library but I think I learned more from this post. I am very glad to see such fantastic information being shared freely out there.

  9. Pingback: cialis cheap
  10. Pingback: silagra 100 use

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close