शहर में खास

*कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने जड़ी-बूटी एवं सागौन पौधों के कृषिकरण हेतु राज सहायता का पुनर्निर्धारण किया*

देवभूमि जे के न्यूज़!

देहरादून:-राज्य सरकार द्वारा जड़ी-बूटी एवं सागौन पौधों के कृषिकरण हेतु राजसहायता का पुनर्निर्धारण कर दिया गया है। इस आशय के प्रस्ताव पर कृषि, उद्यान व रेशम विकास मंत्री श्री सुबोध उनियाल द्वारा स्वीकृति दे दी गई है।
योजना के तहत वर्तमान में 28 प्रजातियों को कृषिकरण पर अनुदान के लिए सम्मिलित किया गया है। इसमें सगन्ध घासें (लैमनग्रास, सिट्रोनला, पामारोजा, खस आदि) डेमस्क गुलाब, जिरेनियम, कालाजीरा, तेजपाल एवं तिमूर, चन्दन, मिन्ट ( Except- जापानी मिन्ट) जैसी प्रजातियां शामिल हैं व कृषिकरण पर लागत का 50 प्रतिशत के समान राजसहायता का प्राविधान है।

इस वर्ष से किसानों को दी जाने वाली राज सहायता का पुर्ननिर्धारण कर दिया गया है। अब तक वर्ष 2005 की उत्पादन लागत के अनुसार अनुदान राशि की गणना की जा रही थी। वर्तमान में महँगाई एवं कृषिकरण कार्यों की लागत में वृद्धि को मद्देनजर रखते हुए राजसहायता को निर्धारित किया गया है। उदाहरण के तौर पर सगन्ध घास प्रजाति में पौध संख्या/नाली रू. 550 राजसहायता को अब रू. 1000 पौध संख्या/नाली एवं डेमस्क गुलाब की खेती में पौध संख्या/नाली 200 का मानक 88 पौध संख्या/नाली कर दिया गया है। इसी तरह गुणवत्ता परीक्षण शुल्क पर 50 प्रतिशत छूट का प्राविधान किया गया है। योजनान्तर्गत अधिकाधिक किसानों को लाभान्वित कराये जाने के निर्देश दिये गये हैं। साथ ही पंजीकृत किसानों के मध्य प्रतिवर्ष अलग-अलग किसानों को योजना से आच्छादित किया जाना है। अनुदान की अधिकतम सीमा रू. 1.00 लाख या 2 हैक्टे. भूमि पर पौध की लागत, जो भी न्यून हो, अनुमन्य होगा।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

8 Comments

  1. I think what you typed made a lot of sense. However, what about this?

    suppose you composed a catchier post title? I am not saying
    your information is not good, however what if you added a title that makes people want more?
    I mean *कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने जड़ी-बूटी एवं सागौन पौधों
    के कृषिकरण हेतु राज सहायता का
    पुनर्निर्धारण किया* –
    Devbhumi JK News is kinda plain. You could peek at Yahoo’s home page and
    note how they create post titles to grab viewers to click.
    You might add a video or a related picture or two to grab readers excited about what you’ve written. Just my opinion, it might bring your posts a little livelier.

  2. Howdy, There’s no doubt that your blog may be having web browser compatibility problems.
    Whenever I take a look at your website in Safari, it
    looks fine however, if opening in Internet Explorer, it’s got some overlapping issues.
    I just wanted to give you a quick heads up! Other than that, great blog!
    adreamoftrains website hosting companies

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close