Breaking Newsस्वास्थ्य

*नर्सिंग का क्षेत्र चुनौतीपूर्ण होने के साथ-साथ सेवाभाव का क्षेत्र भी है- निदेशक एम्स पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत*

देवभूमि जे के न्यूज़,‌ऋषिकेश। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, एम्स ऋषिकेश में डिपार्टमेंट ऑफ नर्सिंग का नए नर्सिंग स्टाफ के लिए ओरेएंटेशन प्रोग्राम आयोजित किया गया। इस अवसर पर निदेशक एम्स पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने कहा कि नर्सिंग का क्षेत्र एक चुनौतीपूर्ण क्षेत्र है। ऐसे में एम्स संस्थान का प्रयास है कि नर्सिंग सेवा को अंतर्राष्ट्रीय स्तर की सेवा बनाया जाए।
एम्स ऋषिकेश में नर्सिंग विभाग के तत्वावधान में हाल में नियुक्त किए गए नए नर्सिंग ऑफिसर्स के लिए ओरेएंटेशन प्रोग्राम का आयोजन किया गया,जिसमें नर्सिंग ऑफिसरों को नर्सिंग व्यवस्था की कार्यप्रणाली से अवगत कराया गया, साथ ही वह संस्थान के संकायगणों व अधिकारियों से रूबरू हुए। इस दौरान नर्सिंग स्टाफ को एम्स संस्थान की कार्य संस्कृति, मरीजों की सेवा और नर्सिंग व्यवस्था के उद्देश्यों से अवगत कराया गया।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बतौर मुख्य अतिथि एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने कहा कि नर्सिंग का क्षेत्र चुनौतीपूर्ण होने के साथ-साथ सेवाभाव का क्षेत्र भी है। लिहाजा इस क्षेत्र में कार्य करते हुए पूरी तरह से समर्पणभाव से मरीजों की सेवा करना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि नर्सिंग स्टाफ को दैनिक तौर से अध्ययन करना नितांत आवश्यक है। अध्ययन करने से हमारा अनुभव और अधिक मजबूत होता है। निदेशक प्रो. रवि कांत ने कहा कि मरीजों की सेवा करते समय हमें प्रतिक्रियाशील न रहकर हर समय सक्रिय रहने की आवश्यकता है। साथ ही इस क्षेत्र में हमें मरीजों की अच्छी देखभाल करते हुए अपने स्वास्थ्य के प्रति भी सजग और सतर्क रहना होता है। उन्होंने एम्स को अध्ययन आधारित अस्पताल बताते हुए नर्सिंग ऑफिसर्स से अपने भीतर सीखने के साथ-साथ सेवाभाव की मनोवृत्ति विकसित करने का आह्वान किया। एम्स की नर्सिंग सेवा को अंतर्राष्ट्रीय स्तर की सेवा बनाने पर जोर देते हुए निदेशक ने कहा कि यह तभी हो सकेगा जब हम उस स्तर की सेवा का संकल्प लें व अपना लक्ष्य निर्धारित करें। डीन एकेडमिक प्रोफेसर मनोज गुप्ता ने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में नर्सिंग सेवा का विशेष महत्व है। उन्होंने कहा कि नर्सिंग स्टाफ को अपनी कार्य संस्कृति और भाषा दोनों विषयों में मरीजों के प्रति मृदु व्यवहार अपनाना होगा, मरीजों के साथ व्यवहार कुशलता से पेश आना नर्सिंग व्यवस्था का पहला सिद्धांत है। हमारा अच्छा व्यवहार रोगी के उपचार में काफी हद में सहायक सिद्ध होता है।
कार्यक्रम को संकायाध्यक्ष अस्पताल प्रशासन प्रोफेसर यूबी मिश्रा, प्राचार्य कॉलेज ऑफ नर्सिंग प्रो. सुरेश के. शर्मा, प्रशासनिक अधिकारी नर्सिंग डा. प्रदीप अग्रवाल आदि ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर प्रो.शालिनी राव, डा. रवि गुप्ता, डा. नम्रता गौर, डीएमएस डा. अनुभा अग्रवाल, एएनएस कमलेश, वंदना,अज्जो उन्नी कृष्णनन आदि मौजूद थे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

21 Comments

  1. I simply want to tell you that I’m newbie to blogging and absolutely liked you’re web site. More than likely I’m want to bookmark your blog . You actually come with exceptional writings. Many thanks for revealing your blog.

  2. I have recently started a blog, the info you offer on this site has helped me tremendously. Thanks for all of your time & work. “So full of artless jealousy is guilt, It spills itself in fearing to be spilt.” by William Shakespeare.

  3. Thanks for sharing superb informations. Your website is so cool. I am impressed by the details that you¡¦ve on this site. It reveals how nicely you perceive this subject. Bookmarked this website page, will come back for more articles. You, my pal, ROCK! I found simply the information I already searched everywhere and simply couldn’t come across. What a perfect web-site.

  4. Greetings from Idaho! I’m bored to tears at work so I decided to browse your blog on my iphone during lunch break. I enjoy the info you present here and can’t wait to take a look when I get home. I’m shocked at how quick your blog loaded on my cell phone .. I’m not even using WIFI, just 3G .. Anyways, amazing site!

  5. Thank you, I’ve just been searching for information approximately this subject for a while and yours is the best I’ve found out so far. But, what concerning the conclusion? Are you certain concerning the source?

  6. I simply want to mention I am just new to blogging and site-building and seriously liked you’re website. Very likely I’m planning to bookmark your blog post . You really have incredible article content. Thanks a bunch for revealing your blog site.

  7. With havin so much content and articles do you ever run into any problems of plagorism or copyright violation? My blog has a lot of unique content I’ve either created myself or outsourced but it seems a lot of it is popping it up all over the internet without my authorization. Do you know any methods to help stop content from being ripped off? I’d certainly appreciate it.

  8. An impressive share, I just given this onto a colleague who was doing a bit of analysis on this. And he the truth is bought me breakfast as a result of I found it for him.. smile. So let me reword that: Thnx for the deal with! But yeah Thnkx for spending the time to debate this, I feel strongly about it and love reading extra on this topic. If attainable, as you develop into experience, would you thoughts updating your blog with more details? It is highly helpful for me. Massive thumb up for this blog post!

  9. I would like to express my appreciation to this writer just for bailing me out of this particular problem. Just after exploring throughout the the web and getting things which are not pleasant, I believed my entire life was gone. Being alive without the strategies to the difficulties you have sorted out as a result of this blog post is a crucial case, as well as those which might have negatively affected my career if I hadn’t noticed the website. Your own personal natural talent and kindness in taking care of every item was invaluable. I’m not sure what I would have done if I hadn’t discovered such a step like this. I can also at this point relish my future. Thanks a lot very much for your reliable and results-oriented guide. I will not think twice to refer the website to any individual who wants and needs guidance about this matter.

  10. I used to be more than happy to seek out this web-site.I wanted to thanks for your time for this wonderful read!! I positively having fun with each little little bit of it and I’ve you bookmarked to check out new stuff you blog post.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close