ऋषिकेश

*फादर्स डे यानी पिता दिवस*:

देवभूमि जे के न्यूज़, ऋषिकेश!

कल रविवार 21 जून को पूरे विश्व सहित भारत मे भी फादर्स डे मनाया जाएगा। वास्तव में एक पिता की अपने बच्चो के प्रति असल जिम्मेदारी का अहसास तो हमे इस कोरेना काल से जूझते हुवे महसूस हुवा।आधुनिक तकनीकी के इस युग मे जहाँ जीवनयापन की जादोजहथ में अधिकतर परिवारों के बीच एक सामाजिक दूरी स्थापित हो गयी थी दिलो की इस दूरी को कोरेना जैसी महामारी ने काफी हद तक पाटने का कार्य किया।नगर के नेत्र चिकित्सक एवं समाजसेवी डॉ राजे नेगी का कहना है कि भागदौड़ भरी जिंदगी के पहिये एकदम से कभी यूं ठहर जाएंगे ऐसा सोचा नही था,डॉ नेगी बताते है कि उनकी दो बेटियां है, हसबेंड वाईफ(मियां बीबी) दोनों ही वर्किंग होने के कारण कभी भी बच्चो को पूर्ण समय नही दे पाते थे, रिस्तो की असल अहमियत तो इस लॉक डाऊन ने हमे समझाई। वैश्विक कोरेना महामारी संक्रमण के कारण आज हम सभी की आर्थिक स्तिथि भलें ही लड़खड़ाई हुई है और इस महामारी से बचाव हेतु जहां एक दूसरे से व्यक्ति संक्रमित न हो जाये इसके लिए सामाजिक एवं शारीरिक दूरी ही पहला इलाज है,वहीं इस महामारी ने दिलो को पास लाने में बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका भी निभाई है इस महामारी से हमे एक ओर सीख भी मिली कि जीवनयापन के लिए तो खर्च बहुत कम है सिर्फ हमारा लाइफस्टाइल एवं दिखावा ही खर्चीला होता है।डॉ नेगी बताते है जून माह के तीसरे रविवार को हर वर्ष पूरे विश्व मे फादर्स डे मनाया जाता है,
मां की ही तरह हमारे जीवन में पिता का महत्व बेहद खास होता है। मां हमारी जन्मदाता हैं तो पिता पालनहार। पिता भले ही ऊपर से सख्त दिखते हों ,लेकिन अंदर से अपने बच्चों के प्रति नर्म ही होते हैं। शायद इसलिए उन्हें नारियल की तरह कहा जाता है। पिता हमारा भविष्य बनाने के लिए अपने सपनों और ख्वाहिशों को भी भूल जाते हैं और सबकुछ करने को तैयार होते हैं। पिता का महत्व शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता।इस लॉक डाऊन में हम लोग अपने पिता को कहीं बाहर तो घुमाने के लिए नही ले जा सकते पर अपने पिता के प्रति प्यार एवं सम्मान में या फिर उनकी स्मृति में एक पौधा लगाकर अपने इस धरा (प्रकृति) को हराभरा एवं खुशहाल बनाये रखने में अपनी भूमिका निभा सकते है।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

77 Comments

  1. With havin so much content do you ever run into any
    problems of plagorism or copyright violation? My website has
    a lot of completely unique content I’ve either written myself or outsourced
    but it appears a lot of it is popping it up all over the web without
    my agreement. Do you know any solutions to help stop content
    from being stolen? I’d certainly appreciate it.

  2. You really make it appear so easy along with your presentation but
    I in finding this matter to be really one thing which I feel I would by no
    means understand. It seems too complicated and extremely vast for me.
    I’m having a look forward in your next post, I will attempt to get
    the hang of it!

  3. I am really loving the theme/design of your web site.
    Do you ever run into any browser compatibility issues?
    A few of my blog audience have complained about my blog not operating
    correctly in Explorer but looks great in Firefox. Do you have any suggestions to help fix this issue?
    y2yxvvfw cheap flights

  4. Heya i’m for the primary time here. I came across this board and I in finding It truly
    useful & it helped me out a lot. I hope to offer something back and aid others like you aided me.
    31muvXS cheap flights

  5. I have to thank you for the efforts you have put in penning this website.
    I am hoping to check out the same high-grade blog posts by you later
    on as well. In truth, your creative writing abilities has encouraged me to get my own,
    personal site now 😉

  6. You really make it seem so easy with your presentation but I find
    this topic to be really something which I think I would never understand.
    It seems too complicated and extremely broad for me.
    I’m looking forward for your next post, I’ll try to get
    the hang of it!

  7. I do not even understand how I ended up right here,
    however I assumed this submit was once great. I do not know who you might
    be but certainly you are going to a well-known blogger if you happen to
    aren’t already. Cheers!

  8. Slant Including men, gender nearby the still and all span as Buy cialis online no prescription use reduced laboratories and purchasing cialis online uniform side blocking agents. slot games Unwrzo kvwden

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close