अजब-गजब!

*चालीस रोटी,बीस प्लेट चावल या 85लिट्टी पल भर में चट कर जाते हैं 21 साल के अनूप*!

एक बार में सौ समोसे हज़म कर जाते हैं!

देवभूमि जे के न्यूज़!
आमतौर पर किसी से आम इंसान की खुराक 4/5 रोटियां और 1/2 कटोरी चावल हो सकती है। लेकिन
एक युवक इस मामले में खाना बनाने वालों के लिए एक मुसीबत बन गया है।
खाना बनाते बनाते रसोइयों के हाथ दुख जाते हैं, लेकिन इस युवक का पेट नहीं भरता। यह खाता ही जाता है बस खाता ही जाता है।
यह है 21 साल के अनूप ओझा राजस्थान की जयपुर में काम करते थे। लॉकडाउन के बाद रोजी-रोटी का संकट हुआ तो अपने घर बिहार के बक्सर के लिए निकल गए ।
इस कठिन समय में गरीबों के लिए भोजन एक बड़ी समस्या हो गई है लेकिन अनुप के लिए यह एक विकराल समस्या है।
अनूप दिखने में सामान्य कद-काठी के ही है, परन्तु एक बार में 40 रोटी और 20 प्लेट चावल चट कर जाते हैं!
कोई व्यक्ति अधिक से अधिक 5या6 लिट्टी खा सकता है लेकिन यह एक बैठक में पचासी लिट्टी खा गए।
14 दिनों के लिए किए गए कोरेंटाईन से परेशान है। राजस्थान से लौटने पर उन्हें बक्सर जिले में 14 दिनों के लिए कोरेंटाइन सेंटर पर रखा गया हैं।
यात्रियों के लिए खाना बनता हैं, सबका पेट भर दिया जाता है।पर अनूप खाते ही जाते हैं!
पिछले दिनों अधिकारियों ने अनूप के लिए बनाया गया खाना खाते देखा तो सब लोग हैरान रह गए। अनूप ने बताया कि वह सामान्य दिनों में भी इतना ही खाते हैं। उनके गांवाले बताते हैं कि एक बार में सौ समोसे अकेले खा गए थे। ज्यादा खुराक अनूप का है परंतु अनूप बताते हैं कि उनका वजन 70 किलो ही है। अकेले ही छः लोगों का काम करते हैं। कोरेंटाइन सेंटर के रसोइए बताते हैं कि वे चावल चाहे कितना भी खिला सकते हैं, लेकिन रोटी बनाते बनाते उनके हाथ दुखने लगते हैं।
अनूप के खान-पान की जानकारी जब सभी अधिकारियों को लगी तो वे खुद पहुंचे और उन्होंने रसोई को निर्देशित किया कि अनूप को उनकी खुराक़ के हिसाब से ही उनको खाना दिया जाना चाहिए!

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

71 Comments

  1. I’m now not certain where you are getting your info,
    however good topic. I must spend a while learning more or
    understanding more. Thanks for great info I was looking for this information for my mission. 34pIoq5 cheap flights

  2. An outstanding share! I have just forwarded this onto a co-worker who had been doing a little homework on this.
    And he actually bought me dinner due to the
    fact that I discovered it for him… lol. So let me reword this….

    Thanks for the meal!! But yeah, thanx for spending some time to discuss this matter
    here on your site. cheap flights y2yxvvfw

  3. Hey there! I realize this is somewhat off-topic but I had to ask.
    Does operating a well-established website like yours take a massive amount work?

    I’m completely new to blogging however I do write
    in my diary every day. I’d like to start a blog so I can easily share my experience and thoughts online.
    Please let me know if you have any suggestions or tips for new aspiring blog
    owners. Thankyou!

  4. Rely though the us that wind-up up Trimix Hips are in many cases not associated in the service of refractory other causes, when combined together, mexican druggist’s online petition a exceptionally unstable that is treated in the service of the paragon generic viagra online Adverse Cardiac. free slots online Zxbuqk xlftix

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close