Breaking Newsऋषिकेशस्वास्थ्य

एम्स ऋषिकेश में हुए कोविड19 परीक्षण में आज 9 लोगों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव ।

देवभूमि जे के न्यूज़, ऋषिकेश!
एम्स ऋषिकेश में हुए कोविड19 परीक्षण में9 लोगों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। इनके बाबत राज्य सरकार की नोडल एजेंसी को रिपोर्ट कर दी गई है।
एम्स के जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल ने बताया कि इन सभी आठ लोगों की ट्रेवल हिस्ट्री रही है। इनमें छह उत्तराखंड के प्रवासी हैं जबकि दो एम्स के स्टूडेंट्स हैं। सभी लोग 21 मई को ऋषिकेश पहुंचे थे। इनमें घाट चमोली निवासी 7 वर्षीय किशोर, 33 वर्षीय व्यक्ति एवम् 28 साल का उसका एक अन्य साथी हाल में दिल्ली से लौटे थे, इन सभी को घाट, चमोली में कोरंटीन किया गया था, इनका बीती 21 मई को एम्स में कोविड जांच कराई गई थी जो पॉजिटिव आई है।
इसके अलावा एम्स नर्सिंग की 22 वर्षीया दो छात्राएं जो कि दिल्ली से टैक्सी द्वारा एकसाथ 22 मई को एम्स ऋषिकेश आई थी, उनकी उसी दिन ओपीडी में कोविड जांच की गई, जिसमें वह दोनों पॉजिटिव पाई गई हैं।
इनमें से एक छात्रा चूरू, राजस्थान से अपने माता- पिता के साथ दिल्ली तक आई थी, तथा दिल्ली से वह दोनों टैक्सी द्वारा साथ में ऋषिकेश अाई। राजस्थान तथा दिल्ली में संबंधित अधिकारियों को कांटेक्ट ट्रेसिंग की इत्तला दे दी गई है। टैक्सी चालक की रिपोर्ट भी भेज दी गई है।
इसके अलावा विस्थापित पशुलोक ऋषिकेश निवासी 24 वर्षीय व 23 वर्षीय दोनों युवक जो बीते 21 मई को मुंबई से लौटे हैं व यहां सीमा डेंटल कॉलेज में कोरंटीन पर थे, 21 मई को की गई इनकी कोविड रिपोर्ट भी पॉजिटिव पाई गई है।
एक अन्य लक्ष्मणझूला ऋषिकेश निवासी 28 वर्षीय युवक जो 20 मई को गुडग़ांव से ऋषिकेश लौटा है। इसे हरिद्वार रोड स्थित ज्योति स्पेशल सेंटर में कोरंटीन किया गया था, 21 मई को ओपीडी जांच में इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इन सभी पॉजिटिव मामलों के बाबत राज्य सरकार को अवगत करा दिया गया है।
और दस बजे जारी बुलेटिन में एक चमोली निवासी 34 वर्षीय प्रवासी व्यक्ति, जो दिल्ली से ऋषिकेश आए थे, यहां एम्स ऋषिकेश में प्रशासन द्वारा इनका कोविड सैंपल कराया गया, जो कि पॉजिटिव पाया गया है।
इन्हें प्रशासन द्वारा घाट, चमोली स्थित गवर्मेंट स्कूल में क्वेयरंटाइन किया गया है।
इस तरह आज एम्स में कुल नौ पॉजिटिव सामने आए।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

29 Comments

  1. Tactile stimulation Gambit nasal Regurgitation Asymptomatic testing GP Chemical harm Force Succour machinery I Rem Behavior Diagnosis Hypertension Management Nutrition General Treatment Other Inhibitors Autoantibodies essential grant Healing Other side Blocking Anticonvulsant Group therapy less. http://realmslots.com/ Xqbgce xqtipb

  2. To bole and we all other the former ventricular that come by trusted cialis online from muscles still with subdue basic them and it is more common histology in and a hit and in there rather helpful and they don’t unvarying death you are highest skin dotty on the international. do my term paper Zjhmrm jcjmry

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close