ऋषिकेशशहर में खासस्वास्थ्य

*कोरोना के साथ हंसते -हंसते जीने की कला आयुर्वेद से सीखें- डॉ0 डी0 के0 श्रीवास्तवा*

देवभूमि जेके न्यूज ऋषिकेश!
कोरोना की वैश्विक महामारी में भारत इस संकट से जिस तरह बखूबी ढंग से निपट रहा है । उसकी पुष्टि न केवल डब्ल्यू एच ओ जैसी अंतरराष्ट्रीय संस्थाएं और विश्व स्तर पर तारीफ और शाबासी से बल्कि उन सर्वेक्षणों से भी होता है, जो प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारतीय चिकित्सा पद्धति के विश्वास और आयुष के कोरोना से बचाव के गाइड लाइन की मान्यता में जनता के पूर्ण विश्वास और अगाध आस्था को रेखांकित करते हैं।

भारतीय परंपरा में अपने पुरातन परंपरा में लौटना और अयुर्वेदिक तरीके से जीवन जीना कोई दुर्लभ कार्य नही है अब हमें आहार , विहार ,संस्कार और आचरण पर केंद्रित होकर हमे अपने स्वास्थ्य को सर्वोपरि मानकर उत्तम बनाना है। अब हमें फ़ास्ट फ़ूड , फ्रोजेन फ़ूड , प्रोसेस्ड फ़ूड से दूर रहकर अपने किचेन से बने स्वादिष्ट और ताज़े भोजन , सीजनल फल एवं सब्जियों से अपने शरीर को सुदृढ़ बनान है। उक्त विचार आज नगर निगम ऋषिकेश में आयोजित कोरोना से बचाव और आयुष काढ़े के वितरण कार्यक्रम में सभा को संबोधित करते हुए भारतीय चिकित्सा परिषद, उत्तराखंड सरकार के नामित सदस्य एव अंतरराष्ट्रीय आयुर्वेद विशेषज्ञ डॉ0 डी0 के0 श्रीवास्तवा ने कही।

डॉ0 श्रीवास्तवा ने कहा कि आयुर्वेद में शरीर और मन दोनों को उच्च स्तर पर स्वस्थ रखने की तमाम व्याख्यान उप्लब्ध है । स्वस्थ मन ही स्वस्थ शरीर का निर्माण करता है इसलिए आप सभी शारीरिक खुराक के साथ साथ मानसिक खुराक यानी खुशी , मैडिटेशन, अच्छी पुस्तको का अध्यन , सभी की सराहना करने की आदत, और हास्य (लाफिंग) को प्रतिदिन अपनी दिनचर्या में शामिल करें इससे आप का तनाव , क्रोध ,ईर्ष्या , नफरत और दुखों का अंत शीघ्र होकर आपके शरीर मे प्रफुलित , हंसमुख , और तनाव रहित मन का वास होकर आपकी ऊर्जा और इम्युनिटी में जबरदस्त इज़ाफ़ा होगा।


आप अपने शरीर के स्वयं चिकित्सक बने और शरीर के प्रत्येक अंग की संवेदनाओ और परिस्थितियों को समझते हुए अपनी दिनचर्या का निर्माण करें। कोई चिकित्सक आपको सम्पूर्ण स्वास्थ्य नही दे सकता जब तक आप स्वयं जागरूक और समझदार नही बनते।स्वस्थ मन मे ही सकारात्मक शरीर और इम्युनिटी निवास कर सकती है।हमे कोरोना के साथ हंसते हंसते जीने की कला आयुर्वेद से सीख लेनी होगी तभी हम भारत को विश्व गुरु बना पाएंगे।
डॉ0 श्रीवास्तवा ने बताया कि ऋषिकेश अयुर्वेदिक डॉक्टर्स एसोसिएशन के सभी सदस्य इस महामारी में आप सभी के स्वस्थ की बचाव हेतु आप को प्रतिदिन आयुष मंत्रालय द्वारा निर्देशित अयुर्वेदिक काढ़ा का वितरण कर आपको कोरोना से बचाने के लिए प्रतिबद्ध है और प्रतिदिन फ्रंट लाइन वारियर्स जिसमे नगर निगम के कर्मचारी, पुलिस , डॉक्टर्स ,नर्सेज इमरजेंसी सर्विसेज को कोरोना से बचाव का काढ़ा पिछले 10 दिनों से प्रतिदिन पिला रहे हैं।
नगर निगम की मेयर श्रीमती अनिता ममगाई ने अयुर्वेदिक चिकित्सको के इस प्रयास को भारत सरकार के मुहिम में मील का पत्थर बनने की बधाईयां दी और प्रतिदिन नगर निगम में 10 बजे से 2 बजे तक इस काढा को वितरित करने का विश्वास दिलाया।
इस कार्यक्रम में नगर निगम के आयुक्त श्री नरेंद्र सिंह कुरियाल निगम के सभी अधिकारी एवं कर्मचारी रोटरी क्लब के अध्यक्ष जितेंद्र बड़थ्वाल, ऋषिकेश अयुर्वेदिक डॉक्टर्स एसोसिएशन के सदस्य डॉ0 जी0 एल0 अरोरा , डॉ0 डी0पी0 वलोदी , उपाध्यक्ष डॉ0सीमा सक्सेना, सचिव डॉ0 भास्कर आनंद , फार्मासिस्ट नीतीश बधानी , संजय रतूड़ी , मदन खाती एवं डॉ0 सी बी शर्मा उपस्थित थे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

32 Comments

  1. If economy 2 weeks a steroid in a frequent, you would do 4 hours a daylight, integument 2 generic cialis online apothecary the mв…eв…tв…OH corrective insulin in the dosage since each liter. lasix 100 mg Hbxnmd lqnain

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close