ऋषिकेशशहर में खास

होम क्वारंटाइन का करें पूरा पालन -अनिता ममगाई*

महापौर ने ली प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक*

*देवभूमि जे के न्यूज़!
ऋषिकेश-लॉकडाउन में मिली राहत और गृह मंत्रालय की गाइड लाइन के बाद विभिन्न राज्यों के साथ प्रवासी उत्तराखण्डियों का अपने गृह राज्य आने का सिलसिला लगातार जारी है।ऋषिकेश में भी बड़ी तादात में देश के विभिन्न राज्पों में लॉकडाउन के चलते फंसे लोग पहुंचे हैं।जिन्हें प्रशासन द्वारा विभिन्न स्थानों पर क्वारनटाइन किया जा रहा है।उनकी व्यवस्थाओं में कोई चूक न हो इसको लेकर नगर निगम महापौर अनिता ममगाई ने आज दोपहर निगम कार्यालय में प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक ली और उन्हें क्वारनटाइन किए गये तमाम लोगों के व्यवस्थाओं में हर आवश्यक प्रबंध करने के निर्देश दिए।वृहस्पतिवार को महापौर द्वारा एक बेहद महत्वपूर्ण बैठक अधिकारियों संग की गई। प्रवासी उत्तराखंडवासियों को होम क्वारंटाइन के दौरान देखरेख को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा की इन तमाम लोगों के नियमित स्वास्थ्य की जाांंच हो और क्वारनटाइन के चौदह दिनों मेेंं उन्हें भोजन सहित सभी आवश्यक सुविधाएं मिल सके प्रशासन को यह सुनिश्चित कराना होगा।निगम की
की और से इसमें हर संंभव सहयोग किया जायेगा। मेयर हेल्प लाइन के जरिए भी क्वारनटाइन किए गये लोग अपनी समस्या बता सकते हैं जिसका तत्काल समाधान करा दिया जायेगा।उन्होंने कहाा कि प्रवासी उत्तराखंड वासियों के यहां पहुंचने के बाद यह बेहद संवेदनशील समय है। इसमे जरा सी चूक वैश्विक महामारी कोरोना को लेकर बहुत भारी पड़ सकती है।
उन्होंने अपने निजी वाहनों द्वारा गृहनगर पहुंचे प्रवासी उत्तराखंडवासियों से अपील करते हुए कहा कि अगले चौदह दिन कम से कम घरों पर ही रहकर होम क्वारनटाइन के नियमों का पूर्ण पालन करें। कोरोना वायरस से बचाव को लेकर सजगता जरूरी है। इससे सरकार द्वारा निर्धारित नियमों को पालन कर ही बचा सकते है। कोरोना वायरस की श्रृंखला को तोड़ने के लिए सभी को अपनी-अपनी एकजुटता प्रदर्शित करते हुए शारीरिक दूरी साफ-सफाई के प्रति विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है।बैठक में उपजिलाधिकारी प्रेमलाल, सहायक नगर आयुक्त ऐलम दास,विनोद लाल,कोतवाल ऋषिकेश रितेश शाह,एस आई कुलदीप रावत आदि मोजूद रहे।

जय कुमार तिवारी

*हमेशा सच का साथ देना! ईमानदारी से आगे बढ़ना, दीनहीनों की आवाज को आगे पहुंचाना। सादा जीवन उच्च विचार और प्रकृति के बनाए हुए दायरे में जीवन निर्वहन करना। झूठ बोलने वालों और फरेब से दूर रहना, कभी किसी के अहित की बात नहीं सोचना। ईश्वर मेरे साथ हमेशा खड़े हैं!*

Related Articles

37 Comments

  1. I simply want to mention I’m very new to blogging and absolutely savored your page. Most likely I’m planning to bookmark your site . You absolutely come with good articles. Kudos for revealing your website page.

  2. I do trust all the ideas you have introduced on your post. They’re very convincing and will definitely work. Nonetheless, the posts are very short for starters. May just you please extend them a bit from subsequent time? Thanks for the post.

  3. You could certainly see your expertise in the work you write. The arena hopes for more passionate writers like you who are not afraid to say how they believe. All the time go after your heart.

  4. I just want to tell you that I am just all new to blogging and really enjoyed your blog. Almost certainly I’m going to bookmark your site . You absolutely have amazing article content. Thanks a bunch for sharing your website.

  5. I am really impressed with your writing skills and also with the layout on your blog. Is this a paid theme or did you modify it yourself? Either way keep up the excellent quality writing, it is rare to see a great blog like this one today..

  6. I was just looking for this info for a while. After six hours of continuous Googleing, finally I got it in your website. I wonder what is the lack of Google strategy that do not rank this kind of informative websites in top of the list. Normally the top web sites are full of garbage.

  7. Interesting article. It’s very unfortunate that over the last decade, the travel industry has had to fight terrorism, SARS, tsunamis, influenza, swine flu, and the first ever real global economic depression. Through all this the industry has proven to be strong, resilient and also dynamic, finding new strategies to deal with difficulty. There are always fresh difficulties and the possiblility to which the field must again adapt and act in response.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
Close